गोधन न्याय योजना , गोठान समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट बना खगपति बना लखपति

जगदलपुर, 25 मार्च 2021/ (IMNB NEWS AGENCY) छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा कृषकों के उत्थान के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है, इन योजनाओं का लाभ लेकर कृषक आज उन्नतशील खेती कर रहे हैं। इसी कड़ी में बस्तर जिले के विकासखंड लोहण्डीगुड़ा के ग्राम साडरा के कृषक खगपति ने आधुनिक कृषि तकनीक और विभागीय योजनाओं का लाभ लेकर समृद्धि की ओर बढ़े।
कृषक खगपति ने वर्ष 2017-18 में कृषि विभाग द्वारा संचालित शाकम्भरी योजना से अनुदान पर विद्युत पंप प्राप्त किया एवं वर्ष 2019 में सौर सुजला योजना से सोलर पंप स्थापित कराया गया। वर्ष 2020-21 में कृषक को आत्मा योजनांतर्गत प्रदर्शन के रूप में निःशुल्क जैविक रागी एवं मेडों पर अरहर की फसल लेने हेतु बीज एवं आदान सामग्री वितरित किया गया। स्वयं द्वारा उत्पादित वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग का कृषक खगपति ने रागी एवं अरहर की फसल  का सात हजार रूपए का अतिरिक्त आय प्राप्त किया। कृषक द्वारा इस वर्ष 40 क्विंटल धान लेम्पस में बेचा गया है। जिससे कृषक को राशि एक लाख रूपए का लाभ प्राप्त हुआ है।  किसान खगपति ने बताया कि गोधन न्याय योजना प्रारंभ होने से पूर्व वे गोबर का प्रयोग कण्डे के रूप में किया करते थे। जिससे उनको कोई खास आय नहीं होती थी। फिर राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना गोधन न्याय योजना अंतर्गत गठित गोठान समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट निर्माण से प्राप्त होने वाले लाभांश से प्रभावित होकर स्वयं वर्मी कम्पोस्ट निर्माण करने लगे। जिससे कृषक की आय में अतिरिक्त वृद्धि होने लगी। वर्तमान में कृषक खगपति के द्वारा 40 क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन किया गया एवं स्वयं के कृषि कार्य हेतु इस खाद का उपयोग किया जा रहा है। जिससे कृषक की आदान लागत में कमी हुई साथ ही मिट्टी की दशा में सुधार हो रहा है। कृषि विभाग द्वारा समय-समय पर तकनीकी सुझाव कृषक को आधुनिक कृषि प्रणाली की जानकारी मिलती रहती है। जिससे खगपति के साथ-साथ ग्राम के अन्य कृषक भी विभागीय योजनाओं का लाभ लेने के लिए प्रोत्साहित हो रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *