भूपेश सरकार में सहकारिता खतरे में बुनकर कर रहे है पलायन

रायपुर, 24 अगस्त 2021,मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी, सहकारिता प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक भाजपा प्रदेश कार्यालय, कुशाभाऊ ठाकरे परिसर, में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री श्री रमन सिंह जी, प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु देव साय , प्रदेश संगठन महामंत्री श्री पवन साय जी, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक जी, विधायक एवं पूर्व मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल जी, पूर्व कृषि मंत्री श्री चंद्रशेखर साहू जी, एवं भाजपा सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक श्री शशिकांत द्विवेदी जी, की गरिमामयी उपस्थिती मे संपन्न हुई

उक्त बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी ने बताया कि किस प्रकार भाजपा शासन काल के 15 साल में मृत प्राय हो चुकी सहकारी संस्थाओं को सुदृढ करने की कोशिश की गयी थी लेकिन कांग्रेस की भूपेश सरकार सहकारिता को पूरी तरह से नेस्तनाबूत करने की कोशिश कर रही है l उन्होंने याद दिलाया की पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने के सी सी के माध्यम से किसानों को क़र्ज़ लेने का मार्ग प्रसस्त किया l वही भाजपा शासनकाल मे किसानों के 16% ब्याज के दर को कम कर 0% किया गया l किसानों के बिजली पंपों के कनेक्शन दिए जाने का सरल मार्ग प्रशस्त किया गया l इस तरह अनेकों कार्य सहकारिता के क्षेत्र में किए गए और सहकारिता को पुनर्जीवित किया गया l मृतप्राय हो चुकी बुनकर सहकारी संस्थाओं को पुनर्जीवित कर बुनकरों के रोजगार के अवसर सृजित किए गए। किंतु भूपेश सरकार में बुनकर रोजगार की तलाश में पलायन कर गए हैं।

प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि ढाई साल बाद भी चुनावी घोषणा पूरा करने में यह सरकार असफल रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के खिलाफ हमारे पास ढेरों मुद्दे है। आक्रामकता के साथ हम सरकार के विरोध में सड़कों पर आएंगे। गरीबों के लिए केंद्र के भेजे गए चावल भी सरकार बांट नहीं रही है। इसे लेकर हम प्रदेशभर के राशन दुकानों में आंदोलन करेंगे। सहकारिता के क्षेत्र में इस सरकार की विफलताओं को जन जन तक पहुंचा कर एवं सहकारिता के ढांचे को मजबूत कर हम आने वाले 2023 चुनाव में इस निकम्मी सरकार को उखाड़ फेंकेंगें और इसमें सहकारिता प्रकोष्ठ की अहम भूमिका होगी।

प्रदेश संगठन महामंत्री श्री पवन साय जी ने इस प्रथम कार्यसमिति की बैठक में सभी सहकारिता प्रकोष्ठ के सदस्यों को उनके नए दायित्व की बधाई दी एवं संगठन को नीचे तक मजबूत बनाने का मार्गदर्शन दिया।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश कार्यसमिति के समापन सत्र पर कहा कि सहकारिता प्रकोष्ठ के माध्यम से हम सबको समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचकर पार्टी की विचारधारा को और मजबूत करने की जरूरत है lउन्होंने कहा कि समाज का आधार ही हमेशा सहकारिता रहा है और हम सहकारिता के भाव को मजबूत कर समाज में समग्रता के लिए कार्य करना होगा। इस दिशा में प्रकोष्ठ की प्रत्येक कार्यकर्ता की भूमिका महत्वपूर्ण हैं। इस दिशा में केन्द्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे सहकारिता के माध्यम से जन कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना होगा।

विधायक एवं पूर्व मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल जी ने अपने ओजस्वी उद्बोधन में सहकारिता के माध्यम से किस प्रकार राजनीतिक लाभ लिया जा सकता है एवं वर्तमान भूपेश सरकार के नाकामियों को जनता के बीच ले जाकर आने वाले चुनाव में जीत का मंत्र साझा किया

पूर्व कृषि मंत्री श्री चंद्रशेखर साहू जी ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक शशिकांत द्विवेदी ने बैठक के अध्यक्षीय उद्बोधन मे केंद्र सरकार द्वारा बनाये गए नये सहकारिता मंत्रालय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को धन्यवाद ज्ञापित किया l साथ ही श्री अमित शाह जी को सहकारिता मंत्री बनाये जाने का स्वागत कियाl मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार द्वारा गांव गरीब किसानों मछुआरों बुनकरों एवं उपभोक्ताओं को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने का प्रयास किया जायेगा। सहकारी समितियों के कारोबार को सुदृढ़ बनाने हेतु कदम उठाये जायेंगे l श्री द्विवेदी ने आक्रोश व्यक्त किया की सरकार की गलत नीति के चलते आज भी प्रदेश के धान उपार्जन केन्द्रो में लगभग 20 लाख क्विंटल धान पड़े पड़े सड रहा है तथा संग्रहण केन्द्रो में लगभग 10 लाख 25 हज़ार मिट्रिक टन धान पड़ा है जिसका उठाव अभी तक नहीं हुआ है l कांग्रेस राज में पहली बार किसान खाद के लिए दर दर भटक रहे है l बाजार में खाद की कालाबाज़ारी जोरो पर है l लघु वनोपज में महिला समूहों द्वारा संचालित संजीवीनी केन्द्रो को महिला समूहों से छीन कर निजी संस्था को दे दिया गया है जिससे हज़ारो महिलाये बेरोजगार हो गयी है l बुनकर काम के अभाव में पलायन कर गए है l श्री द्विवेदी जी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार की विफलताओं एवं उनके द्वारा सहकारिता एवं सहकारी संस्थाओ को नष्ट करने की कुत्सित प्रयास की भर्तसना की l साथ ही जन घोषणा पत्र में किए गए सभी वादों को पूरा करने की याद दिलाई।

बैठक के अंत मे सहकारिता प्रकोष्ठ के सह संयोजक श्री प्रवीण कुमार दुबे जी द्वारा राजनीतिक प्रस्ताव भी लाया गया जिसे सर्वसम्मति से पारित किया गया ।
कार्यक्रम का संचालन प्रदेश मिडिया प्रभारी सोमेश पाण्डेय ने किया l

आभार प्रदर्शन रायपुर की ज़िला संयोजक नीलम सिंह जी ने किया एवं कोरोना काल में मृत सहकारी सदस्यो को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की गयी l

उक्त कार्यक्रम में प्रमुख रूप से अशोक बजाज, रसिक परमार, दयाराम साहू ,अभिषेक तिवारी अमरजीत बक्शी,रंजीत पांडे, ,शिरीष तिवारी, विकास अग्रवाल,महेंद्र वैष्णव, आलोक मिश्रा, चुन्नी लाल यदु,अवध पाण्डेय, आदि प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य, ज़िला संयोजक गण एवं सहसंयोजक गण उपस्थित थे l

भाजपा सहकारिता प्रकोष्ठ की कार्यसमिति ने कांग्रेस सरकार से जन घोषणा पत्र के सभी वादे पूरा करने का आह्वान किया एवं षड्यंत्र, अपराध, और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की चेतावनी दी। कार्यसमिति के माध्यम से सभी सहकारी साथियों से आवाहन किया गया कि आने वाले 2023 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के विजय पताका फहराने में सहकारिता प्रकोष्ठ की अहम भूमिका बने।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *