Saturday, June 22

इंदौर आपके स्वागत के लिये है तैयार : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

 

मुख्यमंत्री ने इंदौर निवासी प्रवासी भारतीयों को इंदौर समिट के लिये दिया आमंत्रण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल होने इंदौर जरूर आइये। इंदौर आएंगे, तो इंदौर का सराफा बाजार और 56 दुकान घूमने के साथ ही उज्जैन और मांडू भी जाना चाहेंगे। उज्जैन में श्री महाकाल महालोक की अदभुत संरचना की गई है। इसलिये कुछ समय लेकर इंदौर आइये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में निवेश के लिए अनुकूल परिस्थितियों के साथ व्यापक संभावनाएँ हैं। यहाँ उद्योगों के लिये जमीन की भरपूर उपलब्धता, शानदार इन्फ्रा-स्ट्रक्चर, 24×7 बिजली और स्किल्ड मेन पावर उपलब्ध है। स्किल्ड मेन पावर तैयार करने के लिये प्रदेश में आईआईटी, आईआईएम, इंजीनियरिंग कॉलेज, पॉलिटेक्निक कॉलेज और आईटीआई भरपूर संख्या में हैं। प्रदेश में सीएम राइज स्कूल खोल रहे हैं, जो कि विश्व स्तरीय होंगे। मध्यप्रदेश शांति का टापू है। इंदौर की फार्मास्युटिकल कंपनियाँ हैं, जिन्होंने कोरोना काल में दिन-रात उत्पादन कर पूरी दुनिया को दवा उपलब्ध करवाई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज जबलपुर से इंदौर निवासी प्रवासी भारतीयों से वर्चुअल चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने एनआरआई इंदौरी फोरम की वेबसाइट का विमोचन भी किया। जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, इंदौर महापौर पुष्यमित्र भार्गव और सांसद श्री शंकर ललवानी भी वर्चुअल शामिल हुए।

आप गेस्ट नहीं होस्ट हैं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आप इंदौर के हैं। इस आयोजन में आप गेस्ट नहीं होस्ट हैं। हम पलक पावड़े बिछा कर आपका इंतजार कर रहे हैं। पूरा इंदौर आपके स्वागत के लिये तैयार है। आपके साथ बात करेंगे और इंदौर के व्यंजनों का आनंद लें।

दुनिया में मची है भारत की धूम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भारत की दुनिया में धूम मची है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में गौरवशाली, वैभवशाली, सम्पन्न और समृद्ध भारत का निर्माण हो रहा है। आज भारत विश्व की 5वीं सबसे बड़ी अर्थ-व्यवस्था है। वह दिन दूर नहीं जब हमारा भारत दुनिया का नंबर वन देश बन जाएगा। पहले भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था। आज फिर से भारत ने उस दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। भारत के विकास और समृद्धि में मध्यप्रदेश और विशेष रूप से इंदौर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

मध्यप्रदेश में निवेश के लिये है अनुकूल वातावरण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में निवेश के लिये अनुकूल वातावरण बना है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था बहुत अच्छी है। यहाँ पर मेन डेज लॉस नहीं है। इंदौर का फार्मा सेक्टर अत्यधिक विकसित है। यहाँ पर 3 शिफ्टों में कार्य होता है। उद्योगों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम है और मैं सबसे बड़ा सिंगल विंडो हूँ, जो निवेशकों की सहायता के लिए हर समय उपलब्ध रहता हूँ।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इस कार्य में मध्यप्रदेश महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। हमने प्रदेश को 550 बिलियन डॉलर की इकोनामी बनाने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को हम आने वाले 3 वर्षों में पूरा करेंगे।

इंदौर कर रहा है पलक पावडे बिछा कर इंतजार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ‘अतिथि देवो भव’ की संस्कृति के अनुकूल पूरा मध्यप्रदेश और इंदौर आपके स्वागत के लिए पलक पावडे बिछा कर तैयार है। मेहमान जो हमारा होता है, वह जान से प्यारा होता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर के निवासियों ने अपने घरों में अतिथियों को रूकवाने की व्यवस्था की है। प्रवासी भारतीय सम्मेलन का शुभारंभ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं समापन राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु करेंगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारा मध्यप्रदेश अद्भुत है। यह टाइगर स्टेट, लेपर्ड स्टेट के बाद अब चीता स्टेट भी बन गया है। वर्चुअल समिट में एनआरआई श्री जितेन्द्र वैद्य, श्रीमती शिल्पा भंडारी, श्री आशुतोष देशमुख सहित अनेक प्रवासी भारतीय शामिल हुए और उन्होंने महत्वपूर्ण सुझाव दिये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *