कवर्धा होगा तम्बाकू मुक्त कलेक्टर रमेश शर्मा का निर्देश, कोटपा एक्ट के तहत जिले में चालानी कार्रवाई शुरू

कवर्धा। जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा के निर्देश पर कबीरधाम जिले को तम्बाकू एवं धूम्रपान मुक्त जिला बनाए जाने एवं समस्त शैक्षणिक संस्थानों को तंबाकू मुक्त बनाए जाने हेतु मुहिम को रफ्तार दी जा रही है। इसके लिए नगरीय निकायों से शुरुवात कर दी गई है।सीएमएचओ
डॉक्टर शैलेंद्र कुमार मंडल के नेतृत्व में आज स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, श्रम विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, खाद्य एवं औषधि निरीक्षक, परिवहन विभाग व नगर पालिका कवर्धा के संयुक्त प्रयास से प्रवर्तन दल द्वारा नगर पालिका कवर्धा मे कोटपा अधिनियम 2003 के तहत चालानी कार्यवाही की गई । तम्बाकू निषेध कार्यक्रम के जिला नोडल डॉ अरुण चौरसिया ने इस सम्बंध में बताया कि धारा 4 एवं 6 के तहत चालान किए गए। चलानी कार्रवाई के साथ-साथ तंबाकू विक्रेताओं को अधिनियम के तहत प्रदर्शित किए जाने वाले बोर्ड प्रदान किए गए साथ ही कोटपा अधिनियम का कड़ाई से पालन किए जाने की समझाइश भी दी गई । उन्होंने बताया कि नगरपालिका द्वारा शैक्षणिक संस्थानों से 100 गज के दायरे में संचालित तंबाकू विक्रय केंद्रों को गुमास्ता रद्द किए जाने हेतु सूचित किया गया है।

*ये है प्रतिबंधित स्थल*

डॉ चौरसिया ने बताया कि धारा 4 के अंतर्गत सार्वजनिक स्थल जैसे होटल, रेस्टोरेंट, शैक्षणिक संस्थान, समस्त निजी एवं सरकारी कार्यालयों पर धूम्रपान करना प्रतिबंधित है। इस अधिनियम के तहत सभी सार्वजनिक स्थलों के प्रभारियों की ओर से धूम्रपान निषेध क्षेत्र वाले बोर्ड लगाना अनिवार्य है।
उन्होंने बताया कि धारा 6 के तहत शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज की परिधि में तंबाकू उत्पाद बेचना अपराध है। इसके अलावा तंबाकू विक्रेताओं की ओर से 18 साल से कम उम्र के व्यक्ति को तंबाकू उत्पाद बेचना दंडनीय अपराध है। इसके लिए निर्धारित बोर्ड मापदंडों के अनुसार खरीदी-बिक्री किया जाना अनिवार्य है। डॉ अरुण ने बताया कि चालानी कार्रवाई की मुहिम पूरे जिले में अनवरत जारी रहेगी व इसे अधिक रफ्तार दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *