किरणमयी नायक का बयान शर्मनाक, नारी अस्मिता के खिलाफ – अनामिका

एक मिनट भी राज्य महिला आयोग अध्यक्ष पद में रहने की अधिकारी नहीं है किरणमयी नायक।
रेप पीड़िताओं पर सवाल खड़ा किया ,महिलाओं का अपमान किया, महिलाओं से मांगे माफी , पद से तत्काल दे इस्तीफा ।
 रायपुर छत्तीसगढ़ दिनांक 11 दिसंबर 2020। अजीत जोगी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष डॉ अनामिका पाल ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती किरणमयी नायक के द्वारा दिया गया बयान “ज्यादातर लड़कियां सहमति से संबंध बनाती है फिर रेप का केस दर्ज कराती है”  पर कड़ी आपत्ति करते हुए बयान को शर्मनाक और नारी अस्मिता के खिलाफ कहा है। डॉ अनामिका पाल ने कहा किरणमयी नायक ने ऐसा बयान देकर महिला विरोधी होने और कुंठित मानसिकता का परिचय दिया। किरणमयी नायक को राज्य महिला आयोग जैसे महत्वपूर्ण पद में एक मिनट भी रहने का अधिकार नहीं है, किरणमयी से इस्तीफा देने और महिला समाज से माफी मांगने की मांग की है।
अनामिका पॉल ने कहा देश भर में रेप की घटनाएं बढ़ रही है , हजारों लोग सड़क में उतकर  हाथों में मोमबत्ती लेकर रेप पीड़िताओं के लिए  न्याय मांगते है वहीं महिला आयोग के अध्यक्ष पद पर आसीन किरणमयी नायक के बयान ने  देश के अनेक रेप पीड़ितो बहनों पर ही सवाल खड़ा कर दिया है । किरणमयी नायक का बयान एक महिला होकर महिलाओं का अपमान है जो अक्षम्य जिसकी जितनी भी निंदा किया जाए कम है।
डॉ अनामिका पाल ने कहा कि महिला आयोग की अध्यक्षा श्रीमती किरणमयी नायक जी द्वारा रेप पीड़ित एवं पुरूष अत्याचार के ऊपर महिलाओं के ऊपर जो अशोभनीय टिका टिप्पणी की गई है उसके विरोध में जोगी कांग्रेस महिला मोर्चा अध्यक्ष डॉ अनामिका पॉल के नेतृत्व में कल दिनांक 13/12/2020 को दोपहर 03:00 बजे रायपुर बूढ़ातालाब में  किरणमयी नायक जी का पुतला दहन कर विरोध प्रदर्शन किया जावेगा,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *