बेमेतरा वर्मी कम्पोस्ट खाद्य का उपयोग कर  अच्छी फसल का उत्पादन कर रहा लक्ष्मीनारायण

बेमेतरा 16 फरवरी 2021-प्रदेश सरकार की द्वारा संचालित एक्टेंसन रिफाम्र्स (आत्मा) योजना के तहत बेमेतरा जिले के विकासखण्ड नवागढ़ के ग्राम टेमरी निवासी  लक्ष्मीनारायण साहू पिता बिसुन साहू द्वारा वर्मी कम्पोस्ट तैयार किया जा रहा है। उन्होने बताया कि उनकेे पिताजी के पुराने तरीके से खेती करने के कारण पुरी मेहनत के बाद भी घर में आर्थिक तंगी लगी रहती थी। एक दिन हमारे गांव में कृषि विभाग द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा था, जिस पर मैंने अमल किया और मैंने वर्मी कम्पोस्ट बनाना प्रारंभ किया। शुरूवाती दौर में मुझे बहुत सारी दिक्कते आयी लेकिन समय-समय पर कृषि विभाग द्वारा मेरी समस्याओ का निराकरण कर मुझे मार्ग दर्शन प्रदान किया गया। मेरे द्वारा यह कार्य चार वर्ष पूर्व प्रारंभ किया गया था। सर्वप्रथम मैंने दो वर्मी कम्पोस्ट टांके का निर्माण किया। मैंने कृषि विभाग के अधिकारियो से संपर्क कर केंचुआ खरीदा और वर्मी खाद बनाना प्रारंभ कर दिया। उस खाद का उपयोग मैंने स्वयं के खेतो में किया जिससे मुझे कम निवेश कर अधिक उत्पादन मिला। फिर मैंने धीरे-धीरे वर्मी टांको की संख्या में वृद्धि की आज की स्थिति में मेरे द्वारा कुल दस टांको में वर्मी खाद बनाया जा रहा है। जिसका उपयोग कर मैं जैविक खेती की ओर अग्रसर हो रहा हूं।
मेरे द्वारा अभी तक 50 क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट खाद अपने खेतो में उपयोग किया जा चुका है। तथा शेष 70 क्ंिवटल वर्मी कम्पोस्ट खाद बनके तैयार है एवं मेरे द्वारा आस-पास के गांवो के किसानो को लगभग 25 हजार रूपये का केंचुआ दिया जा चुका है। मेरे द्वारा स्वयं के खेतो में उपयोग करने हेतु वर्मी कम्पोस्ट के साथ-साथ डी-कम्पोजर एवं गौ मूत्र द्वारा तैयार जैविक कीटनाशक का भी उपयोग किया जा रहा है। कृषि विभाग के मार्गदर्शन में मैं जैविक खेती हेतु पूर्ण तरीके से तैयार हो चुका हँू एवं मेरे द्वारा आस-पास के किसानो एवं गौठान में संचालित स्व-सहायता समूहो को वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन हेतु प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *