आईजी सुंदर राज पी ने कल्याणकारी पुलिसिंग की नीव रखते हुए जवानों को ‘‘ए.एस.के. कांसेप्ट’’ पर आधारित कार्य करने की सीख दी

*डीआरजी नारायणपुर के जवानो से मिलकर उनके मांगों को किया पूर          बस्तर आईजी  सुन्दरराज पी. नारायणपुर जिला के नव पदोन्नत 35 सहायक उप निरीक्षकों और 149 प्रधान आरक्षकोें के उत्साहवर्धन के उद्देश्य से नारायणपुर जिले के प्रवास पर रहे। इस दौरान नव पदोन्नत सहायक उप निरीक्षकों और प्रधान आरक्षकों की स्किल डेवलपमेंट के लिये कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में आईजी श्री सुन्दरराज पी. ने नव पदोन्नत जवानों को अपनी शुभकामनाएं दी तथा कल्याणकारी पुलिसिंग की नीव रखते हुए उन्हें ‘‘ए.एस.के. कांसेप्ट’’ पर आधारित कार्य करने की सलाह दी। उन्होने जवानों को ए.एस.के. कांसेप्ट की जानकारी देते हुए कहा कि आम जनता के प्रति आपकी ’एटीट्यूड’ (रवैया/व्यवहार) सभ्य, सालीन और मित्रवत् हो इसके साथ यह भी आवश्यक है कि आपकी ’स्किल’ (कार्यकुशलता/दक्षता) और आपकी ‘नाॅलेज’ (ज्ञान/जानकारी) अच्छी हो तथा आप ज्ञानार्जन के लिये तत्पर रहें, ये तीन तत्व ‘‘एटीट्यूड, स्किल और नाॅलेज’’ कल्याणकारी पुलिसिंग के लिये आवश्यक तत्व हैं।

डीआरजी नारायणपुर के जवानो से मिलकर उनके मांगों को किया पूरा:
जवानों की स्किल डेवलपमेंट के लिये आयोजित कार्यशाला के उपरांत पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर श्री सुन्दरराज पी. ने डीआरजी, नारायणपुर के जवानों से मिलकर उनका भी उत्सावर्धन किया। उन्होने हाल ही में पुलिस अधीक्षक श्री गिरिजा शंकर जायसवाल के नेतृत्व मे डीआरजी जवानों द्वारा 10 लाख के ईनामी नक्सली साकेत नुरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी को मारने में सफलता के लिये बधाई दी तथा अपेक्षा जताई कि नारायणपुर डीआरजी के जवान निरंतर रिजल्ट ओरियेंटेड ऑपरेशन्स करेगी। श्री सुन्दरराज पी. ने जवानों के मनोबल की अभिवृद्धि के लिये उनसे उनकी कुशलक्षेम और आवश्यकताओं की जानकारी चाही गई, जवानों के अधिकाधिक आवश्यक मांगों को आईजी बस्तर और पुलिस अधीक्षक द्वारा त्वरित निराकरण भी किया गया तथा शेष मांगों को यथाशीघ्र पुरा करने का आश्वासन भी दिया गया। डीआरजी जवानों ने आईजी से मिल अपनी मांगों के त्वरित निराकरण से प्रभावित होकर उन्हें आश्वस्त किया कि वे उनके विश्वास पर ख़रा उतरने का प्रयास करेंगे और आगे लगातार नक्सल उन्मूलन में अपना बहुमूल्य योगदान देंगे।

बस्तर आईजी श्री सुन्दरराज पी. के प्रवास के दौरान उनके साथ डीआईजी कांकेर श्री बालाजी सोमावार भी जिला नारायणपुर के प्रवास पर रहे। नव पदोन्नत जवानों की स्किल डेवलपमेंट के लिये आयोजित कार्यशाला तथा डीआरजी जवानों की मीटिंग के दौरान उनके साथ पुलिस अधीक्षक श्री गिरिजा शंकर जायवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर, उप पुलिस अधीक्षक श्री अनुज कुमार, उप पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत खाण्डे, उप पुलिस अधीक्षक श्री रितेश श्रीवास्तव, उप पुलिस अधीक्षक श्री अरविंद खलखो, उप पुलिस अधीक्षक सुश्री मोनिका मराबी और रक्षित निरीक्षक श्री दीपक साव सहित नव पदोन्नत पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.