Tuesday, July 16

मोदी की नई कैबिनेट तैयार, आइए मोदी के इस कैबिनेट की मुख्य बातें जानें…

Cabinet Ministers of India 2024 मोदी की नई कैबिनेट तैयार।

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन में लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। शपथ लेने के साथ ही मोदी ने इतिहास रच डाला। मोदी (Cabinet Ministers of India 2024) ने लगातार तीन बार प्रधानमंत्री बनने के मामले में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के रिकॉर्ड की बराबरी की।

मोदी के साथ उनके 30 कैबिनेट (Modi cabinet ministers list) और 36 राज्य मंत्रियों और 5 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ने भी पद की शपथ ली। इस बार का कैबिनेट मोदी के दोनों कार्यकाल से काफी अलग है। आइए मोदी के इस कैबिनेट की मुख्य बातें जानें…

मोदी मंत्रिमंडल (Cabinet Ministers of India 2024) में भाजपा के बड़े नेता राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, एस जयशंकर और पीयूष गोयल शामिल हैं। ये सभी नेता Modi 2.0 में भी महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।
मोदी कैबिनेट में सबसे हैरान करने वाला नाम भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का है। नड्डा को बड़ा विभाग मिलने की संभावना है। जेपी नड्डा के कैबिनेट में शामिल होने के साथ ही अब ये भी कयास लगने शुरू हो गए हैं कि भाजपा को नया अध्यक्ष मिल सकता है।
केरल में पहली बार कमल खिलाने वाले अभिनेता से राजनेता बने सुरेश गोपी को भी कैबिनेट में जगह दी गई है। वहीं, पूर्वी दिल्ली से पहली बार सांसद बने हर्ष मल्होत्रा भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल हैं।
मोदी कैबिनेट (ministers of india 2024) में कई पूर्व मुख्यमंत्रियों ने भी मंत्री पद की शपथ ली। इनमें शिवराज सिंह चौहान, एच.डी. कुमारस्वामी, मनोहर लाल खट्टर, जीतन राम मांझी और सर्बानंद सोनोवाल शामिल हैं।
कैबिनेट में BJP के कई सहयोगी दलों को भी जगह मिली। हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा से जीतन राम मांझी, जनता दल सेकुलर (जेडीएस) से एचडी कुमारस्वामी, जेडीयू से राजीव रंजन सिंह उर्फ ​​ललन सिंह, टीडीपी से किंजरापु राम मोहन नायडू, लोक जनशक्ति पार्टी (राम विलास) से चिराग पासवान कैबिनेट मंत्री बने। वहीं, आरएलडी के जयंत चौधरी समेत कई और भाजपा सहयोगियों ने राज्य मंत्री और राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में शपथ ली।
दिलचस्प बात यह है कि शायद पहली बार है कि जब चुनाव के बाद किसी मुस्लिम सांसद ने मंत्री पद की शपथ नहीं ली। हर आम चुनाव के बाद शपथ लेने वाली मंत्रिमंडल में कम से कम एक मुस्लिम सांसद होता था।
समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, जिन राज्यों से चार या अधिक सांसद चुनाव जीते हैं उन्हें मंत्रिमंडल में जगह मिली है। वहीं, गोवा और अरुणाचल प्रदेश जैसे छोटे राज्यों को भी प्रतिनिधित्व मिला है।
मोदी कैबिनेट में बिहार के 8 मंत्रियों में से 4 को कैबिनेट मंत्री बनाया गया। वहीं, उत्तर प्रदेश के नौ मंत्रियों में से केवल राजनाथ सिंह कैबिनेट मंत्री बनें। महाराष्ट्र के छह सांसदों को मंत्रिमंडल में जगह मिली है।
मोदी मंत्रिमंडल के कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं हैं। 42 मंत्री ओबीसी, एससी और एसटी श्रेणियों से हैं।
इस मोदी कैबिनेट की बड़ी बात ये भी है कि इसमें पिछली सरकार के 37 मंत्रियों को बाहर कर दिया गया है। इनमें से सात कैबिनेट मंत्री थे, जिनमें स्मृति ईरानी, ​​अनुराग ठाकुर और नारायण राणे शामिल हैं। जिन बड़े नामों को मंत्री पद से हटाया गया है, उनमें अर्जुन मुंडा, संजीव कुमार बालियान, फग्गन सिंह कुलस्ते, पुरुषोत्तम रूपाला, वीके सिंह, महेंद्र नाथ पांडे, साध्वी निरंजन ज्योति, आरके सिंह, राजीव चंद्रशेखर, कैलाश चौधरी, वी मुरलीधरन और मीनाक्षी लेखी शामिल हैं।

कैबिनेट मंत्रियों और राज्य मंत्रियों की सूची
कैबिनेट मंत्रियों की सूची: राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, जेपी नड्डा, शिवराज सिंह चौहान, निर्मला सीतारमण, सुब्रह्मण्यम जयशंकर, मनोहर लाल, वीरेंद्र कुमार, एचडी कुमारस्वामी, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, जीतन राम मांझी, राजीव रंजन सिंह उर्फ ​​ललन सिंह, सर्बानंद सोनोवाल, किंजरापु राममोहन नायडू, प्रहलाद जोशी, जुएल ओराम, गिरिराज सिंह, अश्विनी वैष्णव, ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया, भूपेंद्र यादव, गजेंद्र सिंह शेखावत, अन्नपूर्णा देवी, किरेन रिजिजू, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मंडाविया, जी किशन रेड्डी, चिराग पासवान और सीआर पाटिल।

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार): राव इंद्रजीत सिंह, जितेंद्र सिंह, अर्जुन राम मेघवाल, जाधव प्रतापराव गणपतराव और जयंत चौधरी।

राज्य मंत्री: जितिन प्रसाद, राम नाथ ठाकुर, श्रीपद येसो नाइक, पंकज चौधरी, कृष्ण पाल, रामदास अठावले, चंद्रशेखर पेम्मासानी, एसपी सिंह बघेल, सुश्री शोभा करंदलाजे, नित्यानंद राय, अनुप्रिया पटेल, वी. सोमन्ना, कीर्तिवर्धन सिंह, बीएल वर्मा, शांतनु ठाकुर, सुरेश गोपी, एल मुरुगन, अजय टम्टा, बंदी संजय कुमार, कमलेश पासवान, भागीरथ चौधरी, सतीश चंद्र दुबे, संजय सेठ, रवनीत सिंह, दुर्गादास उइके, रक्षा निखिल खडसे, सुकांता मजूमदार, सावित्री ठाकुर, तोखन साहू, राज भूषण चौधरी, भूपति राजू श्रीनिवास वर्मा, हर्ष मल्होत्रा, निमूबेन जयंतीभाई बंभानिया, मुरलीधर मोहोल, जॉर्ज कुरियन और पबित्रा मार्गेरिटा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *