Sunday, July 21

उप मुख्यमंत्री अरुण साव की पहल पर बच्ची को मिला नया जीवन, परिवार में लौटी खुशियां

*परिजनों ने उप मुख्यमंत्री से मिलकर जताया आभार, कहा आपकी वजह से हमारी बेटी इस दुनिया में*

रायपुर. 7 जुलाई 2024. दिल में छेद की गंभीर बीमारी से जूझ रही बिलासपुर की बिटिया को उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव की पहल पर नया जीवन मिला है। उप मुख्यमंत्री श्री साव को बहुत गरीब घर की इस बेटी की गंभीर बीमारी की जानकारी मिलने पर उन्होंने रायपुर के एमएमआई अस्पताल में निःशुल्क ऑपरेशन की व्यवस्था करवाई। ऑपरेशन के बाद बच्ची की हालत में तेजी से सुधार हो रहा है। श्री साव से बच्ची और उसके परिजनों ने शनिवार को बिलासपुर में भेंटकर निःशुल्क इलाज के लिए आभार प्रकट किया। उप मुख्यमंत्री को देखते ही बच्ची के माता-पिता की आंखों में कृतज्ञता के आंसू छलक आए। उन्होंने कहा – “आप हमारे लिए भगवान के समान हैं। आपने हमारी बच्ची की जान बचाई है। आपके सहयोग की वजह से ही हमारी बेटी इस दुनिया में है। इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। आप ऐसे ही लोगों की मदद करते रहें।“

बिलासपुर के चांटीडीह स्लम क्षेत्र में रहने वाले श्री शीतलदास मानिकपुरी कबाड़ इकट्ठा कर अपने परिवार का भरण-पोषण करते हैं। उनकी पत्नी श्रीमती रामेश्वरी बाई गृहिणी हैं। उनकी 13 साल की बेटी दिल में छेद की गंभीर बीमारी से पीड़ित थी। जटिल ऑपरेशन से ही इसका इलाज हो सकता था। पिछले दो वर्षों से ऑपरेशन के लिए वे इधर-उधर भटक रहे थे। उन्हें कहीं से भी कोई सहायता नहीं मिल रही थी। वे बेबस अपनी बिटिया को इलाज के अभाव में तड़पता देख रहे थे। कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण परिवार निजी अस्पताल में ऑपरेशन में होने वाले बड़े खर्च को वहन करने में सक्षम नहीं था। ऐसे में पत्रकारों के माध्यम से उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव को बच्ची की गंभीर बीमारी और परिवार की माली हालत के बारे में जब पता चला तो उन्होंने तत्काल इलाज के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।

उप मुख्यमंत्री श्री साव की पहल पर विगत 25 जून को रायपुर के एमएमआई नारायणा अस्पताल में बच्ची का निःशुल्क सफल ऑपरेशन हुआ। विशेषज्ञों के इलाज और अच्छी देखभाल से उसकी सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है। बिटिया के सफल ऑपरेशन के बाद अब परिवार ने राहत की सांस ली है। परिवार की खुशियां अब लौट आई हैं। उन्होंने इसके लिए उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव के प्रति अपनी कृतज्ञता प्रकट की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *