एक देश , वैक्सीन की कीमत भी एक हो -कोमल हुपेंडी, प्रदेश अध्यक्ष आप

Komal hupdi aap

आम आदमी पार्टी प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ में कोरोना का संकट बड़े स्तर पर है । सरकार के दुवारा एक मई से 18 साल के ऊपर के उम्र के लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगने जा रही है l भारत में, आपातकालीन उपयोग के लिए दो स्वदेशी निर्मित वैक्सीन है । पहला सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का COVISHEILD जबकि दूसरा भारत बायोटेक का COVAXIN । तीसरा वैक्सीन स्पूतनिक है जो रूसी वैक्सीन है |

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोरोना वैक्सीन COVISHEILD 400 रुपये में राज्य सरकार के अस्पतालों में उपलब्ध होगी जबकि Bharat Biotech की वैक्सीन COVAXIN आपको 600 रुपये प्रति डोज़ राज्य सरकार के अस्पतालों में मिलेंगे. वहीं निजी अस्पतालों में COVISHEILD की कीमत 600 रुपये रखी गई है, जबकि COVAXIN कोरोनावायरस वैक्सीन के एक शॉट की कीमत आपको निजी अस्पतालों में 1,200 रुपये देनी होगी , जबकि केन्द्र सरकार को 150 रुपये प्रति खुराक की दर से कोवैक्सीन और कोविडशील्ड की आपूर्ति करेगी ।

प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा कि एक देश में वैक्सीनेशन की कीमत भी एक होनी चाहिए । राज्य सरकार को मिलने वाले वैक्सीनेशन की ज्यादा कीमत होने से राज्य सरकार के राजस्व पर भी इसका असर पड़ेगा, ऐसी स्थिति में केंद्र की मोदी सरकार और यहां के भाजपा के नेताओं को केंद्र से बात करके इसका एक समाधान निकालना चाहिए ।

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया अपनी कोविडशील्ड वैक्सीन

अमेरिका- ₹299
ब्रिटेन- ₹224
बांग्लादेश- ₹299
सउदी अरब- ₹393
द.अफ्रीका- ₹393
ब्राजील- ₹236

में दे रहा है और हमें वही वैक्सीन राज्यों को 400, प्राइवेट को 600 में दिया जायेगा , जो उचित नहीं है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *