महासमुंद जिपं का बाबू की कार्यशैली से पंचायत सचिव परेशान पंचायत सचिव संघ ने की संसदीय सचिव से शिकायत


महासमुन्द। जिला पंचायत में पदस्थ एक लिपिक पर लेनदेन कर ग्राम पंचायत सचिवों का ट्रांसफर करने का मामला सामने आया है। ग्राम पंचायत सचिव संघ ने यह आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत संसदीय सचिव से करते हुए उक्त लिपिक को यहाँ से हटाकर अन्यत्र जिले में स्थान्तरित करने की मांग की है।
पंचायत सचिव संघ के अध्यक्ष सुनील साहू व नारायण साहू सहित संघ के एक प्रतिनिधिमंडल ने संसदीय सचिव निवास पहुंचकर संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने बताया कि जिला पंचायत में पदस्थ लिपिक उदयभान राय द्वारा सचिवों के स्थानान्तरण व अन्य कार्यों के लिए राशि की मांग की जाती है। उक्त लिपिक करीब 20 से 25 सालों से यहाँ पदस्थ है। लिहाजा उनके द्वारा मनमानीपूर्वक व्यवहार किया जाता है। वर्तमान में सचिवों के स्थानांतरण में भी नियमों को तक पर रखकर सचिवों का तबादला किया गया है। जिसमें मोटी रकम ली गई है। जिन सचिवों का एक-दो माह पूर्व ट्रांसफर हुआ है और जॉइनिंग भी नहीं ले पाए हैं, उनका भी स्थानांतरण कर दिया गया है। उक्त लिपिक की कार्यशैली से सचिवों को मानसिक व आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने लिपिक को महासमुन्द जिले से हटाकर अन्यत्र जिले में स्थानांतरण करने की मांग की। जिस पर संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए अधिकारियों से चर्चा कर आवश्यक पहल करने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *