Wednesday, July 24

आरजेएन एवं एमएमएसी जिले के गांव-गांव में चल रही पो_ लईका पहल

बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने के लिए नया मिशन
राजनांदगांव 08 जुलाई 2024। जिला प्रशासन द्वारा राजनांदगांव और मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी जिले के लक्षित आंगनबाडिय़ों में पो_ लईका पहल का संचालन किया जा रहा है। कलेक्टर राजनांदगांव श्री संजय अग्रवाल एवं कलेक्टर मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी श्री एस जयवर्धन के मार्गदर्शन में दोनों जिलों में गंभीर कुपोषित बच्चों के लिए यह योजना संयुक्त रूप से संचालित है। पो_ लईका पहल एक पोषण परामर्श अभियान है, जहां हर शुक्रवार को पालक चौपाल में पोषण के विषय में चर्चा होती है। स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग और राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन का पूरा अमला खान-पान और खिलाने के प्रति व्यवहार में बदलाव लाने के लिए लगा हुआ है। इसका मुख्य उद्देश्य बच्चों को क्या खाना चाहिए, कैसे और कब खाना चाहिए तथा कुपोषित बच्चों को क्या खिलाना चाहिए के संबंध में जानकारी दी जा रही है। खाद्य पदार्थ में पोषक तत्व तथा सूक्ष्म पोषक तत्वों के बारे में बताया जा रहा है। विभागों के जमीनी स्तर के कर्मचारियों को यूनिसेफ द्वारा प्रशिक्षित किया गया है। आईबी ग्रुप की सीएसआर विंग पहल की भी इसमें सहभागिता है।
पो_ लईका पहल के तहत विगत शुक्रवार को राजनांदगांव और मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी जिले के 340 लक्षित आंगनबाड़ी केन्द्र में पालक चौपाल का आयोजन किया गया। जिसके तहत जिला पंचायत सीईओ सुश्री सुरूचि सिंह ने राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम सिंघोला एवं मोहड़ में आयोजित पालक चौपाल में शामिल हुई। पालक चौपाल में कुपोषित बच्चों के पालकों को तिरंगा भोजन और हाथ धोने के महत्व के बारे में जानकारी दी गई। कुपोषित बच्चों की माताओं ने खुल कर अपनी समस्याओं के बारे में और अपने बच्चों के कमजोर होने का कारण बताया। स्वस्थ बच्चों की माताओं ने बताया कि वह अपने बच्चों को कैसे और क्या खिलाती हैं। स्वस्थ बच्चों की माताओं को सम्मान स्वरूप श्रीफल दिया गया। पालक चौपाल में जनपद सदस्य, सीडीपीओ सुश्री रीना ठाकुर, पर्यवेक्षक, मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सरपंच, सचिव एवं बच्चों के पालक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *