महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज, कांग्रेस के बाद शिवेसना भी अपने विधायकों को कर रही शिफ्ट

मुंबई. महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज हो गई है। राज्य में अब लगभग सभी मुख्य दलों ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर ली है, लेकिन अभी तक किसी भी दल ने सरकार बनाने का दावा पेश नहीं किया है। इसके पीछ की वजह है कि किसी पार्टी के पास बहुमत का आंकड़ा मौजूद नहीं है। हालांकि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है और उसके पास 105 विधायक हैं। सरकार बनाने के लिए 146 विधायकों के समर्थन की जरुरत है। कल यानी 9 नवंबर को महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है।
नई सरकार के गठन के लिए आज का ही दिन शेष है। ऐसे में सभी दलों की ओर से टूट की आशंका के मद्देनजर अलग-अलग स्थानों पर शिफ्ट कर रहे हैं। कांग्रेस भी अपने विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाकर उन्हें राजस्थान की राजधानी जयपुर ले जाने की तैयारी कर रही है। कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि वह कांग्रेस के साथ-साथ शिवसेना के विधायकों को भी खरीद रही है. पार्टी ने कहा है कि बीजेपी ने एक विधायक को 50 करोड़ रुपए देने की बात कही है। वहीं शिवसेना भवन में हो रही पार्टी बैठक खत्म हो गई। उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में हुई बैठक। आदित्य ठाकरे भी शिवसेना की बैठक में मौजूद रहे। जिसके बाद खबर ये आ रही है कि रंग शारदा होटल से विधायकों को शिफ्ट किया गया। बता दें कि कल शिवसेना विधायकों को दलबदल से बचाने के लिए फाइव स्टार में ठहराया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *