राजनीति करने वाले वैक्सीन पर उंगलियां उठाते रहेंगे,वृद्धाश्रम के बुजुर्गों ने उत्साह से लगवाया कोरोना का टीका

*समाज कल्याण सचिव ने वैक्सीनेशन सेंटर पहंुचकर जाना हाल-चाल*

रायपुर 15 मार्च 2021/ कोरोना महामारी का जोखिम बुजुर्गों को अधिक है, इसे ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार शुरू से बुजुर्गों के प्रति संवेदनशील रही है। प्रदेश में कोविड 19 टीकाकरण अभियान के तहत बुजुर्गों को टीके लगाए जा रहे हैैं। इसी क्रम में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित वृद्धाश्रमों में निवासरत बुजुर्गांे को भी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए जा रहे हैं। इन वृद्धाश्रमों के 176 बुजुर्गों को कोरोना का टीका लगया जा चुका है। आज रायपुर जिले के माना कैम्प स्थित वृद्धाश्रम के 09 बुजुर्गों को मेकाहारा के वैक्सीनेशन सेंटर में कोरोना का टीका लगाया गया।                   टीकाकरण में 56 वर्ष से लेकर 83 वर्ष तक के बुजुर्ग शामिल हुए। टीकाकरण को लेकर बुजुर्ग काफी उत्साहित दिखे। टीका लगाने के बाद आधा घंटे तक बुजुर्गों को निगरानी के लिए बैठाया गया। इस दौरान किसी बुजुर्ग में कोई साइड इफेक्ट या अन्य कोई लक्षण दिखाई नही दिए। इस दौरान समाज कल्याण विभाग की सचिव श्रीमती शहला निगार, संचालक श्री पी.दयानंद सहित विभागीय अधिकारी भी मौजूद थे।
श्रीमती निगार ने टीकाकरण के लिए आए बुजुर्गों से उनका हाल-चाल जाना और टीका लगाने के बाद उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली। विभागीय सचिव के पूछने पर बुजुर्गों ने बताया कि उन्होंने सुबह नाश्ता कर लिया है और टीका लगाने के बाद उन्हें कोई परेशानी नही है। उन्होंने बुजुर्गों को यह भी समझाया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए पहले टीके के 28 दिनों बाद दूसरा टीके का दूसरा डोज लगाना जरूरी है। टीका लगने के बाद भी मास्क लगाना सुरक्षित दूरी रखना और हाथों की सफाई अनिवार्य है। विभागीय अधिकारी श्री भूपेन्द्र पाण्डे ने बताया कि 12 मार्च को वृद्धाश्रम के पांच अन्य बुजुर्गों को कोरोना का टीका लगाया गया था। टीका लगने के बाद सभी बुजुर्ग स्वस्थ हैं और उन्हंे कोई समस्या नहीं है।
वृद्धाश्रम में रहने वाली 70 वर्षीय बुजुर्ग श्री शंकर चौधरी ने बताया कि उन्हें कभी कोरोना संक्रमण नही हुआ। भविष्य में भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए वे टीका लगवाने आए हैं। उन्होंने बताया कि टीका लगने के बाद उन्हें किसी तरह की कोई समस्या नही हुई। वे टीकारकण के लिए सुबह नाश्ते में दलिया खाकर आए हैं। इसी तरह 67 वर्षीय श्रीमती प्रीति सरकार ने बताया कि वह ब्लड प्रेशर और मधुमेह की मरीज हैं। लॉकडाउन के समय से लगभग 10 माह से वे वृद्धाश्रम में रह रही हैं। वृद्धाश्रम में उनका नियमित चेकअप किया जाता है। कोरोना का टीका लगाने के बाद उन्हें कोई तकलीफ नही हुई। सभी बुजुर्ग साथ में टीका लगवाने आए हैं। जिससे वे सभी बहुत उत्साहित हैं। 61 वर्षीय श्री निमाय भौमिक ने बताया कि टीकाकरण के बाद उन्हें कोई परेशानी नही हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *