Friday, July 19

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से ग्राम फुलझर के गरीब एवं बेघर लोगों को मिला सपनों का घर

– महेन्द्र, पूनमचंद एवं विष्णुदास सहित 74 जरूरतमंद लोगों को मिला आशियाना
– प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को महेन्द्र, पूनमचंद एवं विष्णुदास ने हृदय से दिया धन्यवाद
राजनांदगांव 04 जुलाई 2024। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण गरीब और बेघर लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है। गरीब एवं बेघर लोगों को बारिश के समय बहुत सारी समस्याओं से जूझना पड़ता था। अब शासन की जनकल्याणकारी योजना प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के माध्यम से पक्का मकान बनने से सारी समस्याओं से मुक्ति मिल रही है। राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम फुलझर के श्री महेन्द्र कुमार घृतलहरे, श्री पूनम चंद घृतलहरे एवं श्री विष्णुदास मारकण्डेय सहित 74 गरीब एवं बेघर लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से आशियाना मिला है। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के माध्यम से गरीब एवं बेघर लोगों को सपनों का घर मिल गया है। सपने जैसे घर में अपने परिवार के साथ खुशी-खुशी जीवन यापन कर रहे हैं और केन्द्र एवं राज्य शासन की अन्य योजनाओं का लाभ भी ले रहे हैं।
राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम फुलझर निवासी श्री महेन्द्र कुमार घृतलहरे, श्री पूनम चंद घृतलहरे एवं श्री विष्णुदास मारकण्डेय ने बताया कि पहले उनके पास कच्चे का मकान था। अब प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से उन्हें पक्के मकान के लिए राशि मिली। जिससे उन्होंने पक्का मकान का निर्माण कराया है। वे कहते हैं कि अपना खुद का पक्का घर बनाना चाहते थे, लेकिन आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वे अपना पक्का मकान नहीं बना पाये। उन्होंने कहा कि पक्के मकान में बिजली, पानी जैसी सभी आवश्यक सुविधाएं मिली हैं। फुलझर के गरीब एवं बेघर लोगों का स्वयं का पक्का मकान बनने से बरसात के दिनों में किसी प्रकार की चिंता नहीं है। वे अपने पक्के मकान में अब अलग से किचन, बिजली, पानी, शौचालय निर्माण कराकर अपने परिवार के साथ रहकर खुशी से जीवन यापन कर रहे हैं। श्री महेन्द्र कुमार घृतलहरे बताते हैं कि वे पहले खपरैल वाले कच्चे मकान में रहते थे। मिट्टी और खपरैल वाला घर होने के कारण बारिश के दिनों में पानी टपकना, जमीन में नमी आ जाना, दीवारों में सीलन, घर के भीतर कीड़े-मकोड़े आ जाना जैसे कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता था। श्री पूनमदास घृतलहरे ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से लाभान्वित होने के साथ-साथ केन्द्र एवं राज्य शासन की नि:शुल्क खाद्यान्न योजना, जल जीवन मिशन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अलावा अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है। उन्होंने बताया कि घर की महिलाओं को महतारी वंदन योजना के तहत 1 हजार रूपए प्रति माह मिल रहा है। शासन की जनकल्याणकारी योजना प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण श्री महेन्द्र कुमार घृतलहरे, श्री पूनम चंद घृतलहरे एवं श्री विष्णुदास मारकण्डेय के लिए वरदान साबित हुई है। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से लाभान्वित करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश के मुखिया श्री विष्णुदेव साय को हृदय से धन्यवाद और आभार ज्ञापित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *