Sunday, May 19

रायपुर : प्रशिक्षु आईएएस अधिकारियों ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से की सौजन्य मुलाकात

*निर्वाचन प्रक्रिया की बारीकियों से हुए अवगत*

*कमांड एवं कंट्रोल सेंटर का किया अवलोकन*

रायपुर, 6 मई 2024/ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती रीना बाबासाहेब कंगाले से आज राज्य के 2023 बैच के प्रशिक्षु आईएएस अधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की। इस दौरान श्रीमती कंगाले ने भारतीय प्रशासनिक सेवा 2023 बैच के प्रशिक्षु अधिकारियों सुश्री अनुपमा आनंद, श्री एम. भार्गव, श्री तन्मय खन्ना एवं श्री दुर्गा प्रसाद अधिकारी को विस्तार से निर्वाचन प्रक्रिया की बारीकियों से अवगत कराया।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती कंगाले ने उन्हें बताया कि लोकतंत्र को सुदृढ़ बनाने निष्पक्ष एवं पारदर्शी निर्वाचन आवश्यक है और चूंकि प्रशासनिक अधिकारियों को निर्वाचन संपन्न कराने का दायित्व मिलता है, अतएव इस कार्य को सफलतापूर्वक संपन्न कराने निर्वाचन के नियमों का समुचित ज्ञान, सजगता और पारदर्शिता बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्तर पर निर्वाचन प्रक्रियाओं के पालन में पूरी तरह से पारदर्शिता बरतते हुए सजग होकर कार्य करने से निर्वाचन का कार्य निर्विघ्न रूप से संपन्न होता है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती कंगाले ने प्रशिक्षु अधिकारियों को बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य भौगोलिक विविधता से परिपूर्ण है। यहां के अनेक मतदान केन्द्र दुर्गम एवं संवेदनशील क्षेत्रों में है, ऐसे में मतदान दलों को मतदान केन्द्र तक भेजने की व्यवस्था के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था तक समस्त स्तरों पर सावधानी पूर्वक कार्य आवश्यक है। श्रीमती कंगाले ने कहा कि निर्वाचन के दौरान की गई यह मेहनत तब सार्थक होती है जब हम संवेदनशील क्षेत्रों में भी निष्पक्ष एवं पारदर्शी निर्वाचन कराने में सफल हो पाते हैं। उन्होंने कहा कि निर्वाचन टीम वर्क है तथा निर्वाचन कार्य में टीम वर्क के माध्यम से ही सफलता मिलती है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती कंगाले ने प्रशिक्षु अधिकारियों को कमाण्ड एवं कंट्रोल सेंटर का भ्रमण कराते हुए बताया कि मतदान की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में सूचना प्रौद्योगिकी की उन्नत तकनीकों का उपयोग करते हुए मतदान के दौरान दूरस्थ मतदान केन्द्रों में भी निर्वाचन प्रक्रिया का अवलोकन किया जाता है। उन्होंने बताया कि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में स्थापित कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में 16 बड़ी स्क्रीन पर एक साथ 96 मतदान केंद्रों की वेब कास्टिंग के जरिए लाइव वीडियो का अवलोकन किया जाता है। निर्वाचन के दौरान मतदान केंद्रों से सीधी तस्वीरें प्राप्त करने के लिए कैमरे स्थापित किए गए हैं। यह पहली बार है कि मतदान केंद्र के अंदर के साथ ही बाहर भी कैमरे लगाए गए हैं जिससे मतदाताओं की कतारों तथा बाहर की अन्य गतिविधियों पर नजर रखी जा सकेगी।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती कंगाले ने बताया कि कंट्रोल एंड कमांड सेंटर के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर भी स्थापित है। यहां एक साथ 18 टीवी स्क्रीन पर विभिन्न न्यूज चैनलों में प्रसारित समाचारों पर सतत निगरानी रखी जा रही है जिससे आचार संहिता के उल्लघंन की ख़बरों पर नजर रखी जा सके। साथ ही विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स, प्रिंट मीडिया, पेड न्यूज सहित प्रचार-प्रसार संबंधी पोस्ट पर सतत निगरानी रखी जा रही है।

श्रीमती कंगाले ने कहा कि निर्वाचन कार्य की पारदर्शिता सुनिश्चित करने के साथ ही भीषण गर्मी को देखते हुए मतदाताओं की मतदान कार्य में अधिक से अधिक सहभागिता सुनिश्चित हो सके, इसके लिए गर्मी के प्रकोप को देखते हुए सभी जगहों पर पेयजल एवं अन्य सुविधाओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित की गई है।

श्रीमती कंगाले ने युवा अधिकारियों को कहा कि मतदान कार्य में महिलाओं की भागीदारी अधिक बढ़े, इसके लिए पिंक बूथ बनाये गये हैं। बुजुर्ग एवं दिव्यांगजनों की सुविधाओं का ध्यान रखते हुए घर में मतदान की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। श्रीमती कंगाले ने कहा कि निर्वाचन कार्य मतदान प्रक्रिया में नियोजित अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कर्तव्यनिष्ठा से तथा मतदाताओं के व्यापक उत्साह से ही संपन्न हो पाता है। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों के रूप में आप सभी को भविष्य में निर्वाचन की जिम्मेदारी संभालनी है और इसके लिए आवश्यक है कि आप ध्यानपूर्वक निर्वाचन प्रक्रिया का अवलोकन करें।

इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री निलेश महादेव क्षीरसागर, उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अपूर्व प्रियेश टोप्पो और सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती शारदा अग्रवाल सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *