Saturday, May 18

राजनांदगांव : डोंगरगढ़ पर्यटन स्थल थीम आधारित तैयार आदर्श मतदान केन्द्र क्रमांक 175 ढारा

ढारा मतदान केन्द्र में सेल्फी पाईंट, प्राकृतिक झरनें, जलाशय, दीवार लेखन से सजेगा
– प्राकृतिक रूप से सजा मतदान केन्द्र ढारा का प्रवेश द्वार


राजनांदगांव 25 अप्रैल 2024। डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम ढारा के मतदान केन्द्र को डोंगरगढ़ पर्यटन स्थल की थीम पर आकर्षक बनाया गया है। लोकसभा निर्वाचन 2024 के अंतर्गत संसदीय क्षेत्र क्रमांक 6-राजनांदगांव के लिए द्वितीय चरण का मतदान 26 अप्रैल 2024 को किया जाएगा। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री संजय अग्रवाल के मार्गदर्शन में मतदाताओं को मतदान के लिए आकर्षित करने आदर्श मतदान केन्द्रों को क्षेत्र विशेष थीम आधारित मतदान केन्द्र बनाया गया है। जिला पंचायत सीईओ श्री सुरूचि सिंह ने बताया कि डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम पंचायत ढारा के मतदान केन्द्र क्रमांक 175 को आदर्श मतदान केन्द्र को आकर्षक डोंगरगढ़ पर्यटन स्थल थीम आधारित तैयार किया गया है। डोंगरगढ़ को धर्मनगरी के नाम से भी जाना जाता है। इसलिए मतदान केन्द्र क्रमांक 175 ढारा को डोंगरगढ़ शहर के धार्मिक एवं प्राकृतिक स्थलों के पहचान पर बनाया गया है। मतदान केन्द्र में डोंगरगढ़ पर्यटन स्थल संबंधी सेल्फी पाईंट, डोंगरगढ़ के समीप पाये गये प्राकृतिक झरनों एवं जलाशयों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। प्रवेश द्वार को प्राकृतिक रूप से सजावट, दीवार लेखन सहित अन्य गतिविधियां की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि डोंगरगढ़ शहर पर्यटकों के लिए विशेष भूमिका रखता है। डोंगरगढ़ छत्तीसगढ़ का सर्वोत्तम पर्यटन स्थल भी है। यहां पर प्रसिद्ध मॉ बम्लेश्वरी देवी मंदिर 1600 फीट ऊंची पहाड़ी की चोटी पर स्थित है। माँ छोटी बम्लेश्वरी देवी मंदिर, छत्तीसगढ़ में एक मात्र यात्री रोपवे है, यह भी एक अतिरिक्त आर्कषण केन्द्र है। यह शहर धार्मिक सद्भाव के लिए जाना जाता है यहाँ हिन्दु धर्म के अलावा बौद्ध, सिख, ईसाई, जैनियों की भी काफी आबादी है। बौद्ध धर्म स्थली प्रज्ञागिरी पहाड़ की चोटी पर स्थित 30 फीट उंची भूमि एक और आर्कषण केन्द्र है। इसके अतिरिक्त जैन धर्म स्थली के रूप में चंद्रगिरि मंदिर का निर्माण किया जा रहा है। ईसाई समाज करवारी पहाड़ी की नोक पर एक विशाल क्रॉस है। डोंगरगढ़ शहर प्राकृतिक सौदर्य एवं झरनों के लिए भी जाना जा रहा है। ग्राम पंचायत ढारा के समीप डंगोरा बांध में प्राकृतिक झरनों की खोज की गई है। इसी प्रकार डंगोरा बांध की प्राकृतिक सौदंर्य भी आर्कषण केन्द्र बन गया है।  इसी प्रकार ग्राम पंचायत बोरतालाब के आश्रित ग्राम कौहापानी के जंगल में प्राकृतिक वॉटरफाल की ऊँचाई करीब 80 फीट है। पनियाजोब जलाशय, मडिय़ान जलाशय भी प्राकृतिक आर्कषण का केन्द्र बना हुआ है । डोंगरगढ़ पर्यटन स्थल होने से प्रति वर्ष लाखों की संख्या में दर्शनार्थी आते हैं जिससे स्थानीय निवासियों को व्यवसायिक दृष्टिकोण से हजारों व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त होता है। सभी जानकारी आदर्श मतदान केन्द्र क्रमांक 175 में की जावेगी, जिससे सभी वर्ग के लोग आकर्षित एवं उत्साहित होकर अधिक से अधिक संख्या में मतदाता मतदान केन्द्र पहुंचेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *