राउत और फडणवीस की मुलाकात से कांग्रेस राकापा की धड़कन तेज,संजय ने दी सफाई क्यो नहीं मिल सकते हम

भाजपा शिव सेना के बीच चल रही रस्सा कसी के बीच शिव सेना नेता संजय राउत और भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की मुलाकात ने कांग्रेस और रांकाप की धडकने तेज कर दी है। जानकारो की माने तो शिव सेना की पटरी जिससे नहीं बैठती उसके साथ उनकी गाड़ी भी नहीं दौड़ती है। कांग्रेस और राकांपा शिव सेना से गठबधंन के बावजुद डरे सहमी रहती है। पता नहीं कब शिव सेना गठबंधन तोड़ दे। शिव सेना का महाराष्ट्र की राजनिति में एक अलग ही दखंल अंदजी है। शिव सेना पूरे देश में एक हिन्दू वादी वाली पार्टी है। लेकिन महाराष्ट्र में मराठियों की पार्टी है। शिव सेना ने यहां हर वर्ग में अपने शिव सेना का प्रकोष्ठ बना रखा है। कामगार सेना,विद्यर्थी सेना, महिला सेना इसी से अनुमान लगाया जा सकता है कि जमीनी पकड़ कितनी मजबूत है। बहारहाल इस मुलाकात पर
शिवसेना सांसद संजय राउत ने बताया है कि आखिर उन्होंने शनिवार को मुंबई के एक होटल में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा कि मैं कुछ मुद्दों पर चर्चा करने के लिए देवेंद्र फड़नवीस से मिला। वह पूर्व सीएम हैं और इसके अलावा, वह महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता हैं और भाजपा के बिहार प्रभारी हैं। आपको बता दें कि इस मुलाकात के बाद महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारों में अटकलों का बाजार गर्म हो गया था।
संजय राउत ने इस मुलाकात पर कहा था कि हमारे बीच वैचारिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं। सीएम को हमारी बैठक के बारे में पता था। राउत ने मुंबई के एक होटल में फडणवीस से मुलाकात की थी। राउत पिछले साल विधानसभा चुनाव के बाद सत्ता बंटवारे के फार्मूले को लेकर भाजपा विरोधी रुख के लिए सुर्खियों में थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *