शिव सेना से कांग्रेस में आए संजय निरूपम ने कहा शिव सेना कांग्रेस को देगी धोखा राउत फडणवीस मुलाकात

मुंबई शिव सेना में सांसद रहे और बाला साहेब के काफी करीबी माने गए संजय निरूपम सालो पहले शिव सेना छोड़ कांग्रेस में आ गए थे। शिव सेना नेताओ ने उन्हें उस समय मक्कार गद्दार क्या क्या नहीं कहा लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव के बाद महाराष्ट्र में शिव सेना कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनाने के बाद से संजय निरूपम अलग थलग पड़ गए। वह पूरी तरह शिव सेना से गठबधंन करने के खिलाफ थे। यह बात भी सभी जानते हैं कि संजय निरूपम के हटते ही संजय राउत सामना के सह संपादक हो गए और संजय निरूपम की जगह ठाकरे परिवार के संजय राउत खासम खास हो गए जो आज तक खास है। मौका देख संजय निरूपम ने भी चौका मारा और संजय राउत और देवेन्द्र फडणवीस की मुलाकात पर कांग्रेस को चेताया है कि शिव सेना अब कभी भी उन्हें धोखा दे सकती है। शिवसेना सांसद संजय राउत और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के बीच शनिवार को हुई मुलाकात के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में जो हलचल मची है, उसे रविवार को कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने और तेज कर दिया। इस मुलाकात को निरुपम ने राजनीतिक व्यभिचार करार देते हुए आशंका जताई है कि कांग्रेस ने अपने विचार, धर्म, व्यवहार सबकुछ छोड़कर सत्ता के लिए जिसके साथ भागीदारी की है, वह शिवसेना कांग्रेस को कभी भी धोखा दे सकती है।
निरुपम ने कहा, ‘कांग्रेस इस सरकार में आकर फंस गई है। शिवसेना के साथ ज्यादा नहीं चलेगी। महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए वे निजी स्वार्थ के साथ आए हैं।’ निरुपम ने कहा, ‘मोदी सरकार के किसान बिल का संसद के दोनों सदनों में कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध किया है। मगर शिवसेना प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसका समर्थन किया है।’ बता दें कि मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम शुरू से ही शिवसेना के साथ मिलकर कांग्रेस की सरकार बनाने के फैसले के खिलाफ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *