Friday, July 12

सरोज सम्मान 2024 यश मालवीय को, ग्वालियर में होगा समारोह

ग्वालियर। वर्ष 2024 के जनकवि मुकुट बिहारी सरोज सम्मान से हिंदी के प्रमुख कवि, नवगीतकार, व्यंगकार, बहुमुखी प्रतिभावान साहित्यकर्मी यश मालवीय को अभिनंदित किया जाएगा। सरोज स्मृति न्यास ने अपनी बैठक में सभी रायों और सुझावों पर चर्चा करने के बाद यह सहमति बनाई। यह जानकारी जनकवि मुकुट बिहारी सरोज स्मृति न्यास के अध्यक्ष महेश कटारे ‘सुगम’ तथा सचिव सुश्री मान्यता सरोज ने दी है।

इलाहाबाद के यश मालवीय हिंदी में खूब पढ़े और सुने जाने वाले कवि हैं। उनका रचना संसार भी विविध और समृद्ध है। अब तक उनकी दर्जन भर से अधिक किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें कहो सदाशिव, उड़ान से पहले, एक चिड़िया अलगनी पर एक मन में, बुद्ध मुस्कुराए, एक आग आदिम, कुछ बोलो चिड़िया, रोशनी देती बीड़ियाँ, नींद कागज की तरह आदि नवगीत संग्रह , ‘चिनगारी के बीज’ नाम से दोहा संग्रह, इण्टरनेट पर लड्डू, कृपया लाइन में आएँ, सर्वर डाउन है जैसे व्यंग संग्रह शामिल हैं। उनके दो बाल गीत संग्रह ‘रेनी डे’ तथा ‘ताकधिनाधिन’ भी प्रकाशित हुए हैं। वे रंगमंच की विधा से भी जुड़े हैं। भारत रंग महोत्सव, नई दिल्ली में नाटक ‘मैं कठपुतली अलबेली’ का मंचन तथा उदय प्रकाश की कहानी पर बनी फ़िल्म ‘मोहनदास’ के लिए गीत लेखन भी किया। पिछले साढ़े तीन दशकों से दूरदर्शन एवं आकाशवाणी के विभिन्न केंद्रों से रचनाओं के प्रसारण के अतिरिक्त राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में स्तंभ लेखन भी कर रहे हैं।

उन्हें अनेक सम्मानों से भी नवाजा जा चुका है। इनमें दो बार उ.प्र. हिन्दी संस्थान का निराला सम्मान, उमाकांत मालवीय पुरस्कार और सर्जना सम्मान, मुंबई का मोदी कला भारती सम्मान, नई दिल्ली से परम्परा ऋतुराज सम्मान, शकुंतला सिरोठिया बाल साहित्य पुरस्कार प्रमुख हैं।

जनकवि मुकुट बिहारी सरोज सम्मान सम्मान अब देश के प्रमुख साहित्य सम्मानों में से एक हो गया है। इसे किसी प्रतिष्ठान, व्यावसायिक संस्थान या सरकार के सहयोग के बिना सरोज जी के प्रशंसकों तथा ग्वालियर के सजग साहित्यिक-सामाजिक समुदाय द्वारा बिना किसी विराम के लगातार दिया जा रहा है। हिंदी के अलावा यह सम्मान अब तक उर्दू, संथाली, बुन्देली, अंग्रेजी, ओरांव, असमिया भाषा के कवियों को दिया जा चुका है। न्यास की विज्ञप्ति के अनुसार यश मालवीय को दिया जाने वाला यह 20वां सरोज सम्मान है तथा इससे सम्मानित होने वाले वे 21वें कवि हैं।

सम्मान समारोह हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी सरोज जी के जन्मदिन 26 जुलाई को ग्वालियर में आयोजित होगा।

जनकवि मुकुट बिहारी सरोज स्मृति सम्मान से अभी तक सीताकिशोर खरे (सेंवढ़ा), निर्मला पुतुल (दुमका, झारखण्ड), निदा फ़ाज़ली (मुम्बई), कृष्ण बक्षी (गंज बासौदा), अदम गौंडवी (गोंडा), उदय प्रताप सिंह (दिल्ली-मैनपुरी), नरेश सक्सेना (लख़नऊ), राजेश जोशी (भोपाल), डॉ. सविता सिंह (दिल्ली), राम अधीर (भोपाल), प्रकाश दीक्षित (ग्वालियर), कात्यायनी (लख़नऊ), महेश कटारे ‘सुगम’ (बीना), शुभा तथा मनमोहन (रोहतक), मालिनी गौतम (गुजरात), विष्णु नागर (दिल्ली), जसिंता केरकट्टा (राँची), देवेन्द्र आर्य (गोरखपुर) तथा सुश्री कविता कर्मकार (गौहाटी) को अभिनंदित किया जा चुका है।

*प्रेषक* :
*महेश कटारे सुगम*, अध्यक्ष
(मो) 9425408801 / 9713024380
*मान्यता सरोज*, सचिव
(मो) 92855 82442 / 94065 28486/
*जनकवि मुकुट बिहारी सरोज स्मृति न्यास*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *