विभाग ने कर दिया शिक्षक का तबादला, प्राइमरी स्कूल के बच्चों ने स्कूल में जड़ दिया ताला

  1. किशोर कर ब्यूरो चीफ महासमुंद

शिक्षक की मांग को लेकर प्राइमरी स्कूल के बच्चे कर रहे हैं आंदोलन

महासमुंद – स्कूल शिक्षा विभाग में सब पढ़े सब बढ़े का नारा काफी प्रसिद्ध हुआ है लेकिन जब से क्या कि स्कूल में ना हो तब बच्चे कैसे पढ़ें यह सवाल खड़ा होता है। एक ओर जहां शासन की ओर से शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने की कोशिश की जा रही है वहीं दूसरी ओर स्कूल में शिक्षक नहीं होने से छोटे-छोटे नौनिहालों को आंदोलन का रुख अख्तियार करते देखा जा रहा है ऐसा ही नजारा महासमुंद जिले में अक्सर स्कूलों में देखा जा रहा है जहां शिक्षकों की कमी के चलते स्कूली बच्चे लगातार आंदोलन कर रहे हैं मामला सरायपाली सुदूरवर्ती वनांचल में स्थित कस्तूरबहाल गांव का है जहां के प्राइमरी स्कूल के बच्चे स्कूल में शिक्षक की मांग को लेकर स्कूल में ताला जड़ दिए और आंदोलन करने लगे बच्चों के आंदोलन को पालकों का भी समर्थन मिलता रहा और पालक और बालक सभी मिलकर स्कूल में ताला जड़कर की मांग पर अड गए। मामले की जानकारी होने पर शिक्षा विभाग के स्थानीय अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों को समझाइश दी लेकिन ग्रामीण उनकी एक नहीं सुनी और शिक्षक के मांग पर ही पड़े रहे गौरतलब है कि महासमुंद जिले के सुदूरवर्ती वनांचल क्षेत्र में स्थित ग्राम कस्तूरबहाल में प्राइमरी स्कूल में 1 शिक्षक की अन्यत्र तबादला कर दिया जाने के बाद स्कूल की पढ़ाई व्यवस्था पूरी तरह से ठप हो गई है और बच्चों की पढ़ाई नहीं हो पाने से बच्चे अब मध्यान भोजन खाकर गौर घर लौट रहे थे ऐसे हालातों को देखते हुए पालक और बालक सभी मिलकर के स्कूल पहुंचकर स्कूल में ताला जड़ दिए और जब तक शिक्षक की व्यवस्था ना हो तब तक ताला नहीं खोलने की मांग पर अड़े रहे । मामले को लेकर जब छोटे-छोटे स्कूल के बच्चों से चर्चा की गई तभी स्कूली बच्चों का कहना था कि उनके स्कूल में शिक्षक नहीं है इसलिए वे स्कूल में ताला बंद कर दिए वहीं ताला बंद करने के दौरान बड़ी संख्या में पालक और महिलाएं भी स्कूल परिसर में उपस्थित हुई थी और शिक्षा विभाग हाय हाय के नारे भी लगा रहे थे । बहरहाल प्राइमरी स्कूल के बच्चों के लिए भी शिक्षक की व्यवस्था नहीं हो पाने से विभाग की कार्यप्रणाली फिर से एक बार सवालों के घेरे में आ गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *