सुरेश्वर महादेवपीठ,भागवत कथा,भगवान श्री राम का अवतार मनुष्य को सुंदर चरित्र सीखने और धर्म की स्थापना के लिए हुआ था,कथा वाचक कामता प्रसाद

श्री सुरेश्वर महादेव पीठ में चल रही श्री मद्भागवत भक्ति ज्ञान यज्ञ के चतुर्थ दिवस में व्यास पीठ पर विराजमान भागवत कथा के सरल मृदुभाषी कथा वाचक श्री कामता प्रसाद तिवारी जी महाराज ने आज कथा में भगवान श्री राम के अवतार की कथा सुनाते हुए भक्तो को बताए कि भगवान श्री रामजी ने हम मनुष्यो को सुंदर चरित्र सिखाने के लिए एवम धर्म की स्थापना के लिए अवतार लिए है इसी कड़ी में भगवान श्री कृष्ण अवतार की कथा श्रवण कराते हुए महाराज श्री ने बताया कि जब पृथ्वी पर अत्यचार बढ़ जाता है सन्तो पर अत्यचार होने लगता है और गाय की रक्षा नही होती उस समय भगवान को अवतार लेना पड़ता है भगवान श्री कृष्ण का अवतार भी राक्षसों संहार कर अपने भक्तों की रक्षा करने के लिए हुआ कथा बताते हुए बड़े हर्षोल्लास के साथ भगवान श्री बाल कृष्ण के प्रागट्य उत्सव को भव्य रूप से मनाया गया जिसमे प्रमुख रूप से स्वामी श्री राजेश्वरानंद नन्द जी महाराज के पावन सानिध्य में भागवताचार्य श्रद्धेय अजयशरण देवाचार्य एवम भागवताचार्य श्री शिवानन्द शास्त्री जी एवम श्री राधे महाराज जी तथा उमाकांत मिश्रा जी अधिवक्ता इन सभी महानुभाव ओ का श्री देबुदत्ता जी के द्वारा श्री राधे नाम का दुप्पटा एवम पगड़ी के साथ सम्मान एवम आशीर्वाद लिया गया इसी कड़ी में श्री सुरेश्वर महादेव पीठ के संस्थापक श्री राजेश्वरानंद जी महाराज जी ने बताया कि हमारे छत्तीसगढ़ में भी श्री राम राज्य की स्थापना हो अपितु पूरे भारतवर्ष मे भी राम राज्य की स्थापना हो एवम हमारा राजा श्री राम की तरह हो जो देश एवम प्रदेश एवम विश्व पर राज्य करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *