Tag: Deadly attack on senior journalist Kamal Shukla

वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला पर प्राण घातक हमला,चार कांग्रेसी गिरफ्तार
Uncategorized, कांकेर, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला पर प्राण घातक हमला,चार कांग्रेसी गिरफ्तार

उत्तर बस्तर कांकेर 26 सितम्बर 2020ः- पत्रकारों के विवाद  के प्रकरण में पुलिस थाना कांकेर में अपराध पंजीबद्धकर कर आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है तथा प्रकरण की विवेचना जारी है। पुलिस अधीक्षक कांकेर श्री एम.आर. अहिरे से प्राप्त जानकारी के अनुसार सुभाषवार्ड कांकेर निवासी सतीश यादव तथा कमल शुक्ला के साथ  हुए विवाद के प्रकरण में पुलिस थाना कांकेर में अपराध पंजीबद्ध किया जाकर आरोपी जितेन्द्र सिंह ठाकुर मांझापारा कांकेर, गफ्फार मेमन जवाहर वार्ड कांकेर, मोनू उर्फ शादाब खान महादेव वार्ड कांकेर और गणेश तिवारी निवासी आमापारा कांकेर के विरूद्ध विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है तथा प्रकरण के आरोपीगणों को गिरफ्तार किया गया। प्रकरण की विवेचना जारी है।...
वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला पर प्राण घातक हमला,राज  किसका है? माफिया का या आपका? सीएम भूपेश बघेल से सवाल,बादल सरोज का
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला पर प्राण घातक हमला,राज  किसका है? माफिया का या आपका? सीएम भूपेश बघेल से सवाल,बादल सरोज का

"आज कांकेर में देश के जाने-माने पत्रकार कमल शुक्ला पर हुआ हमला स्तब्ध और बहुत विचलित करने वाली खबर है। यह इस बात का प्रमाण है कि छत्तीसगढ़ में आज भी राज काज भ्रष्ट नौकरशाह, अपराधी नेता और गुंडों के हाथ में है तथा इस बात का सबूत भी कि मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस माफिया गिरोह को नाथने में या तो पूरी तरह असफल हुए हैं या फिर उन्होंने उनके साथ सहअस्तित्व कायम कर लिया है।" इन शब्दों के साथ दी गई अपनी कड़ी प्रतिक्रिया में लोकजतन के सम्पादक और अखिल भारतीय किसान सभा के संयुक्त सचिव बादल सरोज ने इस घटना को छत्तीसगढ़ के लिए शर्मनाक और पत्रकारिता को डराने-धमकाने में असफल रहने पर उन्हें मार डालने तक की कायराना हरकतों का नमूना बताया है। बादल सरोज के अनुसार पिछले 15 दिनों से पूरी दुनिया जानती थी कि कैबिनेट का दर्जा पाए, मुख्यमंत्री के करीबी माने जाने वाले एक अपराधी के संरक्षण में चलने वाले ...