Tag: Great music and a lively king of Phuljhar princely state Mahendra Bahadur Singh no longer wave of mourning

महान संगीतज्ञ और फुलझर रियासत के जिंदादिल राजा महेंद्र बहादुर सिंह नहीं रहे  चहेतों मे शोक की लहर, आज दी जाएगी अंतिम बिदाई
खास खबर, गरियाबंद, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, महासमुंद, रायपुर

महान संगीतज्ञ और फुलझर रियासत के जिंदादिल राजा महेंद्र बहादुर सिंह नहीं रहे चहेतों मे शोक की लहर, आज दी जाएगी अंतिम बिदाई

किशोर कर ब्यूरोचीफ महासमुंद महासमुन्द : फिंगेश्वर और सरायपाली रियासत के राजा महेन्द्र बहादुर सिंह का बीती रात निधन हो गया। वे 96 वर्ष के थे। राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। जिंदादिल राजा महेंद्र बहादुर की पहचान अच्छे खिलाड़ी, चित्रकार और संगीतकार के रूप में थी। सप्ताहभर पहले उनकी तबियत बिगड़ने पर रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां देर रात उन्होंने अंतिम सांस ली। वे छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना के पूर्व संयुक्त मध्यप्रदेश में मंत्री रहे। राज्यसभा में दो बार सदस्य चुने गए। सात बार के विधायक और सबसे वरिष्ठ होने से उन्हें छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रथम (प्रोटेम) स्पीकर होने का गौरव प्राप्त है। दो रियासत के राजा थे सिंह फिंगेश्वर राज की अंतिम जमींदार रानी श्याम कुमारी देवी थीं। सरायपाली रियासत के राजा महेंद्र बहादुर सिंह को उनकी नानी रानी श्याम कु...