Tag: the emperor of the constellations

रविवार 8 नवंबर को रवि पुष्य नक्षत्र है,नक्षत्रों का सम्राट,विवाह बाधा दूर करे,पंडित राजेश्वरनन्द महाराज
खास खबर, रायपुर

रविवार 8 नवंबर को रवि पुष्य नक्षत्र है,नक्षत्रों का सम्राट,विवाह बाधा दूर करे,पंडित राजेश्वरनन्द महाराज

वैदिक शास्त्र के अनुसार 27 नक्षत्र है इस में आठवें स्थान पर पुष्य नक्षत्र कहलाता है इसलिए इसे नक्षत्रों का सम्राट भी कहा जाता है यह नक्षत्र बेहद ही शुभ एवं कल्याणकारी होता है जब यह नक्षत्र रविवार के दिन होता है तो इस नक्षत्र एवं वार के योग से रवि पुष्य योग बनता है इस योग में ग्रहों की सभी बुरी दशाएं अनुकूल हो जाती है जिसका परिणाम सदैव आपके लिए शुभ कारी होता है रवि पुष्य योग समस्त शुभ और मांगलिक कार्य के शुभारंभ के लिए अति उत्तम माना गया है रवि पुष्य योग विवाह को छोड़कर इस योग में सोने के आभूषण प्रॉपर्टी और वाहन आदि की खरीददारी करना लाभदायक होता है इसके अलावा यह योग तंत्र मंत्र की सिद्धि एवं जड़ी-बूटी ग्रहण करने में विशेष रूप से उपयोगी होता है इस दिन साधना करने से उसमें निश्चित ही सफलता प्राप्ति होती है कार्य की गुणवत्ता एवं उसके प्रभाव में वृद्धि होती है धन वैभव में वृद्धि होती है...