Tag: the highest symbol of compassionate duty – Dr. Subhash Pandey

24 अप्रैल दशगात्र,कर्मनिष्ठ कर्तव्यपरायणता के उच्चतम प्रतीक वैचारिक ऊंचाइयों एवं ओजस्वी वाणी के पर्याय- डॉ सुभाष पांडे
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

24 अप्रैल दशगात्र,कर्मनिष्ठ कर्तव्यपरायणता के उच्चतम प्रतीक वैचारिक ऊंचाइयों एवं ओजस्वी वाणी के पर्याय- डॉ सुभाष पांडे

दास्ताँनें यूं ही खत्म नहीं होती काया चली जाती है, परंतु छाया की माया का वजूद कायम रहता है| डॉ सुभाष पांडे को उनके जीवन काल में अपनी काया से ऐसी माया मिली जिसकी छाया उनका परिचय बन गई है| जनसेवा के मार्ग के अनुयाई, सच्चे समाज सेवक, प्रेम, निष्ठा, कर्तव्य, क्रांति एवं निडरता की निर्झरिणी के रूप में सुभाष बाबू का परिदृश्य उभरता रहेगा| डॉक्टर पांडे समाज के वह अग्रगण्य व्यक्ति थे, जिनके सिद्धांतों, उदारता एवं जीवंत स्वभाव के आधार पर नए समाज और नई संस्कृति की रचना हो सकती है| अपने कर्तव्यों को पूरा कर डॉ पांडे अनंत यात्रा की ओर, अन्य ग्रह मंडल को आलोकित करने निकल पड़े हैं या फिर आसमान की चादर पर यादों का सितारा बनकर जगमगाने लगे हैं| डॉ पांडे का जीवन वह अफसाना है जिसे अंजाम का मुकाम हासिल नहीं हुआ| हिमालयी वैचारिक ऊंचाइयों और चट्टानी इरादों के पर्याय रहे डॉ सुभाष पांडे की विदाई असामयिक...