तंत्र, मंत्र जिन्न का दरबार कोरोना काल मे भी चलता रहा आखिर गुढ़ियारी पुलिस बब्बू अली से डरती क्यो है

0  2004 में एक मुस्लिम युवती की जिन्न की पिटाई से हो गई थी मौत।                                                           रायपुर।तंत्र मंत्र के नाम पर तरह तरह का गोरखधंधा चलाया जाता है।राजधानी में भी इस तरह के उल्टे सीधे कार्य किये जाते हैं।तंत्र मंत्र के नाम पर जिन्न का दरबार लगाने की जानकारी सामने आईं है।इस कार्य को उस व्यक्ति द्वारा किया जा रहा है जिस पर जिन्न के दरबार में इलाज करने के नाम पर युवती को पीट पीट कर मार डालने का आरोप है।
विज्ञान के युग में जिन्न का दरबार लगने की बात पर अगर भरोसा न हो तो राजधानी के रेलवे स्टेशन के करीब कि मुहल्ले कुंद्रापारा जो गुडियारी क्षेत्र का हिस्सा है,में जाकर देखा जा सकता है। यहां बब्बू अली नामक व्यक्ति जिन्न का दरबार लगाता है।वो खुद पर जिन्न सवार होने का दावा करता है।
जिन्न सवार होने का दावा करने वाला ये व्यक्ति सिगरेट पर सिगरेट पीता जाता है,और कहता है कि उस पर सवार हुए जिन्न ये सिगरेट पोता है।जिन्न की उम्र 2सौ साल होने का भी दावा इस व्यक्ति द्वारा किया जाता है। इलाज के नाम पर सिगरेट की राख को पानी में मिलाकर पीने के लिए दिया जाता है, जो कि मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक है।. कौन है बब्बू अली                                                   जिन्न सवार होने का दावा करने वाला बब्बू अली वर्ष 2004 में अत्यंत निर्धन वर्ग की एक बीमार युवती का इलाज के नाम पर भूत उतारने को बात कहकर उसे पीट पीट कर मार डाला था।ताज्जुब की बात ये है कि उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। युवती की लाश को पोस्टमार्टम रोकने उसने मुस्लिम समाज का प्रदर्शन करवा दिया।पुलिस विरोध प्रदर्शन के चलते दबाव में आ गई। मृतक युवती के बुजुर्ग माता पिता के अलावा कोई नहीं था जो खुद भी दूसरों के खैरात पर अपना जीवन गुजार रहे थे।इसके बाद से जिन्न सवार होने का दावा करने वाला बब्बू अली बेलगाम हो गया है।वो बात बात पर जिन्न की धमकी देता है।वो कहता है कि उस पर जो जिन्न सवार होते हैं वो अफगानिस्तान के बादशाह हैं।
जिन्न का दरबार लगाकर इलाज करने वाले बब्बू अली को पुलिस ने नहीं रोका तो वो फिर किसी की जान के लिए खतरा बन सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *