Friday, July 12

कला केन्द्र से निखर रहा है हर आयु वर्ग के कलाकारों का कला

सवा तीन महीने में 18 सौ 90 कलाकारों ने लिया 23 अलग-अलग विधाओं में प्रशिक्षण
प्रतिविधा सिर्फ पांच सौ रूपये का शुल्क

रायपुर 28 जून 2024/ मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय के कर कमलों से 10 मार्च 2024 को शुभारंभ हुए कलाकेन्द्र से अबतक कुल 18 सौ 90 कलाकारों ने लिया 23 अलग-अलग विधाओं में प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हैं, जहां वर्तमान में 9 सौ से अधिक प्रशिक्षणार्थियों के साथ नियमित रूप से सुबह 06 से 10 बजे एवं शाम 04 बजे से रात्रि 08 बजे तक अलग अलग तीन पालियों में कला केन्द्र संचालित हो रहा है। इसमें हर एक विधा में कुशल प्रशिक्षकों द्वारा संबंधित विधा को बारीकि से सिखाया जाता है और प्रैक्टिकल रूप से ट्रेनिंग दी जाती है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर डॉ गौरव सिंह के मार्गदर्शन में नालंदा परिसर स्थित कला केंद्र का संचालन हो रहा हैं। इस केंद्र में बच्चे और युवाओं को कुल 23 विधाओं का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कला केंद्र परिसर में गाने की रिकॉर्डिंग के लिए कक्ष का निर्माण भी किया गया है। परिसर में निर्मित ओपन मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की समय-समय पर प्रस्तुतियां होती है। प्रत्येक कमरा वातानुकूलित है और परिसर में शुद्ध पेयजल-शौंचालय के साथ पार्किंग की व्यवस्था है। परिसर में सुरक्षा के लिए गार्ड भी रहते है।

कला केंद्र का संचालन कलेक्टर की अध्यक्षता में समिति गठित कर किया जा रहा है। प्रशिक्षर्थियों के लिए सौ रूपये में पंजीयन एवं पांच सौ रूपये प्रतिमाह की दर से प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध है। केंद्र में न्यून्तम पांच वर्ष के बच्चों से लेकर 60 वर्ष से अधिक वरिष्ठ व्यक्ति भी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। परिसर में अलग-अलग प्रशिक्षण कक्ष तैयार किए गए है। जहां प्ले आर्ट मेहंदी, बासुरी, तबला, हारमोनियम, बैंजो वादन आदि कलाओं का प्रशिक्षण के साथ साथ लोक संगीत, पियानो और गिटार का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। यहां डांस, जुंबा इत्यादि भी प्रशिक्षण मिल रहा है। कला केन्द्र के माध्यम से प्रशिक्षकों को रोजगार के अवसर मिल रहे है और लोगों को विभिन्न विधिओं का किफायती दर पर प्रशिक्षण प्राप्त हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *