Wednesday, July 24

आकांक्षी ब्लॉकों में सरकार द्वारा निर्धारित सूचकांकों में पूर्णता की स्थिति के लिए विभागों द्वारा की जा रही पहल

आकांक्षी विकासखण्ड के सूचकांक का सम्पूर्णता अभियान के तहत जिला स्तरीय कार्यक्रम तोकापाल में

जगदलपुर। नीति आयोग के आकांक्षी जिला-विकासखंड के सूचकांक का सम्पूर्णता अभियान के तहत जिला स्तरीय कार्यक्रम तोकापाल के कृषि मंडी परिसर में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चित्रकोट विधायक श्री विनायक गोयल ने कहा कि आकांक्षी ब्लॉक के सम्पूर्णता अभियान के सभी मानकों को सभी की सहभागिता से पूर्ण किया जाना है। सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ सभी नागरिकों को लेना चाहिए, महिलाओं के लिए संचालित योजनाओं से आर्थिक सम्बलता और स्वास्थ्य सुविधा से एक बेहतर स्वास्थ्य पाया जा सकता है। साथ ही किसानों के लिए मृदा परीक्षण की मिल रही सुविधा का लाभ से बेहतर कृषि कर उत्पादन को बढ़ाया जा सकता है। प्रदेश सरकार की महतारी वंदन योजना, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी जैसे अन्य योजनाओं का लाभ उठाएं। कार्यक्रम में कलेक्टर श्री विजय दयाराम के. ने कहा कि सरकार ने आकांक्षी योजना का जिलों और आकांक्षी ब्लॉकों में संचालन कर अपेक्षाकृत पिछड़े और दूरदराज के क्षेत्रों के तेजी से विकास को सुनिश्चित करने के लिए किया गया था। प्रदेश के 20 आकांक्षी ब्लॉकों में बस्तर जिले में तोकापाल ब्लॉक है जिसमें सरकार द्वारा निर्धारित सूचकांकों में पूर्णता की स्थिति पाने के लिए सम्बंधित विभाग द्वारा पहल की जा रही है। सम्पूर्णता अभियान के तहत तीन दिन विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।कार्यक्रम में आयोजित नुक्कड़ नाटक के माध्यम से स्वास्थ्य के लिए दिए संदेश का सभी पालन करें। कार्यक्रम को पूर्व विधायक श्री लच्छूराम कश्यप, सीईओ जिला पंचायत श्री प्रकाश सर्वे ने संबोधित किया। कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य, जनपद पंचायत के अध्यक्ष एवं सदस्य सहित जिला स्तरीय अधिकारी, बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।

ज्ञात हो कि सम्पूर्णता अभियान का उद्देश्य 112 आकांक्षी जिलों और 500 आकांक्षी ब्लॉकों में चुने गए संकेतक में संतृप्ति (शत-प्रतिशत) प्राप्त करना है। संकेतक स्वास्थ्य पोषण कृषि, सामाजिक विकास और शिक्षा जैसे विषयों से संबंधित है। उक्त संकेतकों को आगामी तीन माह (01 जुलाई से 30 सितम्बर 2024) तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। सम्पूर्णता अभियान के तहत सूचकांको को शत-प्रतिशत करने का प्रयास किया जाएगा, इसमें पहली त्रैमासिक अवधि के दौरान प्रसवपूर्व देखभाल (एएनसी) के लिए शत-प्रतिशत गर्भवती महिलाओं का पंजीकरण, शत प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण, हाइपरटेंशन, शुगर एवं डायबटिज की जांच, महिला एवं बाल विकास विभाग के तहत सभी गर्भवती महिलाओं को पूरक पोषण आहार प्रदान, मृदा परीक्षण उपरांत सॉइल हेल्थ कार्ड का वितरण, सभी माध्यमिक विद्यालयों में विद्युतीकरण की सुविधा और सभी बच्चों को पाठ्यपुस्तक उपलब्ध कराना एवं शाला त्यागी बच्चों को फिर से मुख्यधारा से जोड़ने जैसे सूचकांक शामिल है। इसके अलावा कार्यक्रम में एनआरएलएम समूह से जुड़ी महिलाओं को रिवाल्विंग फंड प्रदाय किया जायेगा।

जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के तहत संपूर्णता अभियान यात्रा से 4 जुलाई को जिला एवं ब्लॉक स्तर पर सम्पूर्ण विकासखण्डों में स्कूली बच्चे, मितानीन, स्व सहायता समूह के द्वारा सभी ग्राम पंचायतों में रैली का आयोजन किया गया। प्रत्येक ग्राम पंचायतों में शिविर आयोजित कर सभी ग्रामीणों के स्वास्थ्य जांच, कृषक संगोठी, चित्रकला एवं रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। सम्पूर्णता अभियान के तहत उत्सव-मेला का आयोजन शुक्रवार को किया जा रहा है, जिला स्तरीय कार्यक्रम विकासखंड तोकापाल में आयोजित किया गया, इस कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम, नुक्कड़ नाटक एवं कला जत्था, विभागीय स्टॉल, पोस्टर प्रदर्शनी, स्वास्थ्य जांच, शपथ कार्यक्रम किया गया। साथ ही सम्पूर्णता अभियान सभा जिले के समस्त विकासखण्डों के ग्राम पंचायतों में ग्रामसभा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें संबंधित विभागों द्वारा सभी सूचकांकों के बारे में ग्रामीणों को जानकारी प्रदान की गई एवं आगामी तीन माह में इन सूचकांकों को ग्राम-ग्राम पंचायतों में शत-प्रतिशत प्राप्त करने हेतु कार्ययोजना बनाई जाएगी। सम्पूर्णता अभियान ज्योति कार्यक्रम 06 जुलाई को मां दंतेश्वरी मंदिर परिसर में आयोजन किया जाएगा साथ ही नुक्कड नाटक एवं कला जत्था के माध्यम से सूचकांकों के बारे में जानकारी दी जायेगी एवं पुरस्कार वितरण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *