कोरोना से मौत के आंकड़े भी छुपा रही सरकार , -सरकारी आंकडे से जुदा है वास्तविक आंकड़ा नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक

रायपुर. नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश में कोरोना की भयावह स्थिति के लिए राज्य के स्वास्थ्य विभाग की कार्यप्रणाली को जिम्मेदार करार दिया.उन्होंने कहा कि एक साल से स्वास्थ्य विभाग नवीन विश्रामगृह में चल रहा है, जहां जिम्मेदार अधिकारी कोरोना के प्रति कम और इडली-दोसा, कॉफी को लेकर ज्यादा संजीदा दिखाई देते है.

उन्होंने आरोप लगाया कि स्वास्थ्य विभाग ने पहले कोरोना पर खर्च की गई राशि को छिपाई अब कोरोना से होने वाले मौत के आंकड़े भी छुपा रही है. मौत के जो आंकड़े सरकार जारी कर रही है, वास्तव में वह आंकड़े कई गुना ज्यादा है. श्री कौशिक ने कहा कि हर दूसरे घंटे में एक मरीज की कोरोना से मौत हो रही है. सरकारी आंकड़े पर ही गौर करे, तो एक साल में करीब 4 हजार 204 लोगों की मौत हुई है. मतलब हर दिन करीब 12 लोगों की मौत कोरोना से हुई है. हर दूसरे घंटे एक व्यक्ति की मौत करोना के कारण हो रहा है.जो बेहद ही चिंताजनक है.

उन्होंने कहा कि यह तो सरकारी आंकड़े है,जबकि वास्तव में कोरोना से मौत के आंकड़े हर दिन करीब 150 से ऊपर है. जिस पर पर्दा डाला जा रहा है। श्री कौशिक ने राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर निशाना साधा कि राज्य की जनता कोरोना की पीड़ा में तड़प रही है, अस्पतालों में न बेड मिल रहा है, न दवाईयां, अब तो वैक्सीन को लेकर मारामारी मची हुई है. आलम यह है कि नए वित्तीय वर्ष में एक रूपए भी अब तक विभाग को आबंटित नहीं किया गया है, जबकि कोरोना लगातार अपना कहर बरपा रहा है.

श्री कौशिक ने यह भी कहा कि कोरोना के नाम पर कांग्रेस सरकार ने केवल भष्ट्राचार किया जा रहा है,एक ही व्यक्ति सभी जिलों के सीएमओ को बजट आबंटित कर रहा है. जिसके खिलाफ दर्जनों शिकायतें आ रही हैं. इसी तरह एक जिले में तो पीपीई किट 15 हजार रुपए में खरीदी गई है, जबकि वहीं पीपीई किट खुले मार्केट में 750 रुपए मिल रहा है. यह राज्य की कांग्रेस सरकार की कोरोना से लड़ाई को लेकर गंभीरता है. यही वजह है कि प्रदेश की जनता का मोह इस सरकार से भंग हो चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *