Monday, June 17

राजेश मूणत की इज्ज़त बचाने रमन सिंह ने चौपाटी की जूस पिलाकर खत्म करवाई धरना

*राजेश मूणत के झूठ प्रोपोगंडा रचित अनिश्चितकालीन धरना को नहीं मिला जनसमर्थन, खुद ही धरना से उठे मूणत*

*प्रदेश में भाजपा के पास मुद्दा नहीं मूणत के अनिश्चितकालीन धरना के पहले भी कई आंदोलन हुए फैल*

रायपुर/14 जनवरी 2023। पूर्व मंत्री एवं भाजपा प्रवक्ता राजेश मूणत के अनिश्चितकालीन धरना को रमन सिंह द्वारा जूस पिलाकर खत्म करवाये जाने पर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने तंज कसते हुए कहा कि पूर्व मंत्री राजेश मूणत के झूठ प्रोपोगंडा रचित अनिश्चितकालीन धरना को जनता का समर्थन नहीं मिला। इसलिए राजेश मूणत को अपनी इज्जत बचाने के लिए अपने ही नेताओं के हाथों के जूस पीना पड़ा है। और वही भाजपा में चल भी रहा, भाजपा के एक नेता धरना देते हैं और दूसरे नेता जूस पिलाकर धरना को खत्म करवाते हैं। भाजपा की बस यही राजनीतिक नौटंकी है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पूर्व मंत्री राजेश मूणत की अज्ञानता और नासमझी के चलते पूरी भाजपा की किरकिरी हो रही थी। उन्होंने जिस मुद्दे को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान किया था उस मुद्दे को जनता का समर्थन नहीं मिला। और वही हुआ जो भाजपा के पूर्व में हुये आंदोलन खेत सत्याग्रह, भात पर बात और रोजगार आंदोलन का हश्र हुआ था। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह को राजेश मूणत की इज्जत बचाने के लिए चौपाटी से जूस मंगाकर मूणत को पिलाकर धरना खत्म करवाना पड़ा।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि स्मार्ट सिटी का पूरा प्रोजेक्ट केंद्र सरकार की निगरानी में चलता है केंद्र सरकार के द्वारा तय की गई डिजाइन और मापदंड के अनुरूप उसमें निर्माण कार्य होते हैं ऐसे में राजेश मूणत के द्वारा जो यूथ हब को चौपाटी बोला जा रहा था जिसकी शिकायत करने गए थे उल्टा उन्हें फटकार लगी है। अब राजेश मूणत को ना तो भाजपा नेता सपोर्ट कर रहे थे, ना ही केंद्र सरकार ने सहयोग किया। ऐसे में धरना से खुद से उठकर जाना उनकी मजबूरी थी और वही हुआ है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि असल मायने में स्काईवॉक घोटाला में राजेश मूणत के खिलाफ शिकायत है जिसकी जांच ईओडब्ल्यू और एसीबी कर रही है स्काईवॉक और एक्सप्रेस वे में भारी घोटाला मूणत के पीडब्ल्यूडी मंत्री रहते हुआ था अब उस घोटाले से जनता का ध्यान हटाने के लिए राजेश मूणत तथ्यहीन आधारहीन आरोप लगाकर धरना देकर अपनी काली करतूत को छिपाने में लगे हुए थे राजेश मूणत कुछ भी कर ले स्काईवॉक घोटाला की जांच होगी और जो भी घोटालेबाज हैं वह जेल जाएंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *