फर्जी मस्टररोल बनाने से दो सचिव निलंबित गोधन न्याय योजना और निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने पर  सचिवों को कारण बाताओ नोटिस जारी

उत्तर बस्तर कांकेर 11 फरवरी 2021ः- गोधन न्याय योजना की समीक्षा बैठक गत दिवस जिला पंचायत के सभाकक्ष में मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ संजय कन्नौजे की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। बैठक मे गोधन न्याय योजना, निर्माण कार्य तथा मनरेगा के तहत निर्मित कार्यों का समीक्षा किया गया और कार्य में लापरवाही बरतने पर सचिवों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया तथा फर्जी मस्टररोल बनाने से दो सचिव को निलंबित किया गया है।

ग्राम पंचायतों में संचालित निर्माण कार्याें की प्रगति की समीक्षा के दौरान जनपद पंचायत नरहरपुर अंतर्गत ग्राम बुदेली, मर्रामपानी, धौंराभाटा, डोमपदर, कोचवाही  के नियुन्तम प्रगति पाये जाने तथा जनपद पंचायत कांकेर के अंतर्गत ग्राम भीरावाही, पाण्डवाही, व्यासकोंगेरा, पुसवाड़ा बाबूदबेना, मोदे, माटवाड़ा लाल तथा जनपद पंचायत अंतगढ़ के अंतर्गत ग्राम पंचायत मासबरस, अमोड़ी, तुमसनार के सचिवों द्वारा कार्य में लापरवाही बरतने के कारण जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ संजय कन्नौजे ने कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इसी प्रकार निर्माण कार्य की प्रगति अथवा कार्य अप्रांरभ किये जाने के कारण जनपद पंचायत भानुप्रतापपुर अंतर्गत ग्राम पंचायत भेजा और जनपद पंचायत अंतागढ़ अंतर्गत टेमरूपानी, हिमोड़ा अर्रा, कलगांव, बण्डपाल और गंवाडी, जनपद पंचायत कोयलीबेड़ा अंतर्गत ग्राम पंचायत के सचिवों द्वारा कार्य में लापरवाही बरतने से कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
इसी प्रकार मनरेगा योजना अंतर्गत जनपद पंचायत कोयलीबेड़ा के ग्राम पंचायत जानकीनगर में निजी डबरी निर्माण कार्य स्वीकृत के हितग्राही  ज्योत्सना सरकार और प्रभाकर के नाम से फर्जी मस्टररोल बनाकर वित्तीय अनियमितता किये जाने पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ संजय कन्नौजे द्वारा ग्राम पंचायत जानकी नगर के सचिव घोड़ागांव टायमनी गोरे एवं ग्राम पंचायत जानकी नगर के सचिव महेन्द्र हालदार को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *