प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत गर्भवती को मिलते हैं पांच हजार रुपये

ब्यूरो चीफ योगेश द्विवेदी कालपी (जालौन)

कोरोना काल में भी महिलाओं के खाते में जा रही धनराशि

कालपी (जालौन)- पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं के उत्तम स्वास्थ्य, संपूर्ण टीकाकरण और पोषण आहार के लिए संचालित प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना जिले में निर्धारित लक्ष्य प्राप्त कर रही है। इस योजना के तहत महिलाओं के खाते में तीन किश्तों में पांच हजार रुपये दिए जाते हैं। कोरोना काल में प्रवासी महिलाओं को भी इस योजना का लाभ दिलाने के निर्देश दिए गए हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अल्पना बरतारिया ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत पहली बार गर्भ धारण करने वाली पात्र महिलाओं का पंजीकरण के बाद राज्य सरकार द्वारा उनके बैंक खाते में डीबीटी सिस्टम के माध्यम से तीन किश्तों में पांच हजार रुपये दिए जाते हैं। आशा, एएनएम ऐसी महिलाओं के आवेदन कार्यालय में जमा करती है और उन्हें योजना का लाभ दिलाती है।
योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक अभिषेक मिश्रा ने बताया कि योजना के अंतर्गत पहली किश्त के लिए आखिरी माहवारी के 150 दिन के भीतर गर्भवती महिला को आवेदन भरना होता है। तब उसके खाते में एक हजार रुपये डाल दिए जाते है। इसके बाद दूसरी किश्त के दो हजार रुपये कम से कम एक प्रेगनेंसी चेकअप के बाद 180 दिन के भीतर डाले जाते है और तीसरी किश्त के रुप में दो हजार रुपये बच्चे के जन्म पंजीकरण और ओपीवी, हैपेटाइटिस जैसे टीके लग जाने के बाद डाले जाते हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना काल में भी योजना के तहत पात्रों को लाभ दिलाया गया है।
अधिक जानकारी के लिए यहां संपर्क कर सकते है.
किसी भी परेशानी के लिए राज्य स्तर पर हेल्पलाइन नंबर. 7998799804 व जिला स्तर पर हेल्पलाइन नंबर. 9453666106 से संपर्क कर सकते है।
कोरोना काल की उपलब्धि.
माह शासन से लक्ष्य उपलब्धि प्रतिशत
अप्रैल 698 108 15.47
मई 698 399 57.16
जून 698 915 131.08
जुलाई 750 746 99.46
अगस्त 750 779 103

वर्षवार आंकड़े
वर्ष शासन से प्राप्त लक्ष्य उपलब्धि प्रतिशत
2017-18 5716 4948 86.56
2018-19 17604 14727 83.66
2019-20 27222 23990 88.12

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *