सड़क पर पुलिस का पहरा तो तस्करों ने जल मार्ग का लिया सहारा ,उड़ीसा से छत्तीसगढ़ तक जोंक नदी में नाॅव से हो रही थी गांजा तस्करी

किशोर कर ब्यूरोचीफ महासमुंद

अंतर्राज्यीय बार्डर लिलेसर नदी घाट से 88 किलो अवैध गांजा जप्त

महासमुन्द- पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल द्वारा कार्यभार संभालने के साथी ही जिलें के समस्त थाना प्रभारियों को संदिग्ध गतिविधियों, अवैध गतिविधियों, अवैध शराब बिक्री, अवैध मादक पदार्थ गांजा तस्करी की रोकथाम हेतु कार्यवाही करने बाबत् निर्देशित किया गया था। जिसके तहत थाना चौकी प्रभारी एवं सायबस सेल की टीम लगातार संदिग्ध गतिविधियों पर निगाह रही जा रही है साथ ही जिले के सरहदी क्षेत्र एवं प्रांत ओड़िसा से परिवहन होने वाली अवैध गांजा तस्करी रोकथाम हेतु अभियान चलाया जा रहा है। जिसके चलते पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली की रात्रि में जोंक नदी के रास्ते अवैध गांजा का परिवहन होने वाला है। सूचना पर सायबर सेल एवं चौकी बुंदेली की पुलिस टीम संदिग्धों को नदी के पास जो कि नदी क्रास करने दिया और उनके द्वारा गांजा को डम्प कर रखने वाले स्थान को चिन्हांकित कर घेराबंदी किया गया। संदिग्ध व्यक्ति देवलाल बरिहा द्वारा पुलिस पार्टी को देखकर बोरी नदी किनारे गढ़ढा में फेंककर भागने लगा भागते समय उसका मोबाईल वही गिर गया तथा आरोपी रात्रि में अंधेरा का फायदा उठाते नदी पर कुद गया। पुलिस टीम भी उसे पकड़े हेतु नदी पर छलांग लगाई किन्तु अंधेरा होने से कुछ दिखाई नही दे रहा था और मौके का फायदा उठाते आरोपी देवलाल बरिहा फरार हो गया। घटनास्थल से 88 किलो अवैध मादक पदार्थ गांजा एवं आरोपी जिसपर से उसकी पहचान देवलाल बरिहा निवासी लिलेसर चौकी बुंदेली की गई व उसका मोबाईल फोन व कपड़े बरामद किया गया। जिसके आधार पर आरोपी की पता तलाश की जा रही है। पुलिस टीम 88 किलो अवैध गांजा कीमती 17 लाख 60 हजार को जप्त कर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना तेन्दूकोना में अपराध धारा 20बी एनडीपीएस के तहत कार्यवाही की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *