Friday, July 19

युवा किसान ललित ने मुख्यमंत्री विष्णु देव साय को दिया धन्यवाद, अवैध कब्जा हटने के बाद कई किसानों को वापस मिला खेत आने-जाने का रास्ता

*पिछले ‘जनदर्शन’ में मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अवैध कब्जा हटवाने का किया था आग्रह, मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई*

रायपुर. 4 जुलाई 2024. मुख्यमंत्री के ‘जनदर्शन’ का असर मैदानी स्तर पर तुरंत दिखने लगा है। राजधानी रायपुर से सटे सेजबहार के युवा किसान ललित साहू अपने गांव के अन्य किसानों के साथ आज प्रदेश के संवेदनशील मुखिया श्री विष्णु देव साय को धन्यवाद देने आए थे। उन्होंने और उनके साथी किसानों ने मुख्यमंत्री निवास में आयोजित ‘जनदर्शन’ में मुख्यमंत्री श्री साय से मुलाकात कर अपने खेतों से लगी शासकीय जमीन के कब्जामुक्त होने के बाद खेत आने-जाने के लिए पुनः रास्ता मिल जाने पर मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

सेजबहार के किसान ललित साहू, कामता प्रसाद, शारदा राम साहू, लाकेश्वर प्रसाद साहू और कामता प्रसाद साहू विगत 27 जून को मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के पहले ‘जनदर्शन’ में अपनी समस्या लेकर आए थे। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया था कि उनके खेतों से लगे सरकारी जमीन पर कुछ लोग अतिक्रमण कर अवैध प्लाटिंग कर रहे हैं। इससे उनके खेत आने-जाने का रास्ता बंद हो गया है। गांव की जमीन पर बेजा कब्जा कर बेच रहे हैं और विरोध करने वालों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से सरकारी भूमि को कब्जामुक्त कराने और अवैध कब्जाधारियों के आतंक से गांव को मुक्ति दिलाने का निवेदन किया था। इस पर मुख्यमंत्री ने त्वरित कार्रवाई का भरोसा दिलाया था।

मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय को धन्यवाद देने दोबारा ‘जनदर्शन’ पहुंचे ललित ने मुख्यमंत्री को आज बताया कि उनके निर्देश पर एसडीएम, तहसीलदार और राजस्व अमले की टीम ने गांव पहुंचकर शासकीय भूमि को कब्जामुक्त करा लिया है। वहां अवैध रूप से बने मकानों को भी ध्वस्त किया गया है। इससे किसानों को निर्बाध रूप से अपने खेत आने-जाने का रास्ता वापस मिल गया है। पिछले पांच-छह सालों से अवैध कब्जे की वजह से खेतों में ट्रैक्टर, थ्रेसर, हार्वेस्टर ले जाने में बहुत दिक्कत होती थी। अब मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई होने से ग्रामीणों और किसानों को बड़ी राहत मिली है। उन्होंने पूरे सेजबहारवासियों की ओर से मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *