धमतरी

28 जुलाई पूण्यस्मृति के अवसर पर विशेष लेख   म प्र–छ ग में आधुनिक खेती के प्रणेता, सरबदा वाले— कृषि रत्न दाऊ कल्याण सिंह सोनवानी
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी, रायपुर, लेख-आलेख

28 जुलाई पूण्यस्मृति के अवसर पर विशेष लेख म प्र–छ ग में आधुनिक खेती के प्रणेता, सरबदा वाले— कृषि रत्न दाऊ कल्याण सिंह सोनवानी

  मध्यभारत में स्थित छत्तीसगढ़ का यह क्षेत्र, पुराने समय से ही सारे संसार मे *धान के कटोरा* के नाम से प्रसिद्ध है। *यहाँ विश्व मे सबसे ज्यादा, 21--22 हजार धान की किस्मे पायी जाती हैं।।* छ ग के धरतीपुत्र किसानों के मेहनत से उत्पादित धान-चावल से देश के अन्य भागों के अतिरिक्त विदेशों में भी लोग अपनी क्षुधा शांत करते हैं।। फिर भी यह दुर्भाग्य ही था कि इस धान के कटोरे, छ ग प्रदेश में भुखमरी थी, लाखों लोग देश के विभिन्न भागों में पलायन करते थे ।। इसके कई कारण थे।। खेती योग्य जमीन का असमान वितरण, खेती के पुराने तरीके, उन्नत खाद - बीज, मशीनों और तकनीकों का प्रचलन में नही होना, सिंचाई के साधनों का अभाव आदि आदि....।। यही स्थिति कमोबेश देशभर में थी।। जब पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी शासन में आयीं, तो उन्होंने इस स्थिति से निपटने के लिये- *सुप्रसिद्ध कृषि वैज्ञानिक और देश मे ह...
धमतरी जय श्री टिम्बर मार्ट सील,अवैध तरीके से लकड़ी संग्रह मचा हड़कंप
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी, रायपुर

धमतरी जय श्री टिम्बर मार्ट सील,अवैध तरीके से लकड़ी संग्रह मचा हड़कंप

रायपुर 03 जुलाई 2021/ वन मंडल मुख्यालय धमतरी स्थित जय श्री टिम्बर मार्ट को अवैध लकड़ी के संग्रहण के कारण आज आवश्यक कार्यवाही करते हुए सील कर दिया गया है। यह कार्यवाही मुख्य वन संरक्षक श्री जे आर नायक के मार्गदर्शन में वन मण्डलाधिकारी धमतरी सुश्री सतोविशा समाजदार के निर्देशानुसार वन विभाग की टीम द्वारा की गई। जय श्री टिम्बर मार्ट धमतरी में अवैध रूप से संग्रहित साल प्रजाति के 25 जलाऊ चट्टा तथा 4130 नग चिरान की जप्ती की कार्यवाही की गई। टिम्बर मार्ट में जांच के दौरान उक्त लकड़ी चट्टा और चिरान के सम्बंध में कोई वैध दस्तावेज नहीं पाया गया।...
कैलेंडर का विमोचन,लालच और असीमित मुनाफे की हवस ने पूरी दुनिया को विनाश के कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है,. कॉमरेड लाल का संघर्ष पृथ्वी को बचाने का संघर्ष था, बादल सरोज
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी

कैलेंडर का विमोचन,लालच और असीमित मुनाफे की हवस ने पूरी दुनिया को विनाश के कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है,. कॉमरेड लाल का संघर्ष पृथ्वी को बचाने का संघर्ष था, बादल सरोज

कॉमरेड लाल का संघर्ष पृथ्वी को बचाने का संघर्ष था : बादल सरोज, कैलेंडर का विमोचन* धमतरी। लालच और असीमित मुनाफे की हवस ने पूरी दुनिया को विनाश के कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। यदि दुनिया को बचाना है, तो आम जनता के शोषण पर टिकी पूंजी की ताकत से लड़ना होगा। असंगठित मजदूरों को संगठित करते हुए, उनके संघर्षों को आगे बढ़ाते हुए कॉमरेड लाल इस पृथ्वी को बचाने के संघर्ष में ही लगे थे। उक्त विचार अखिल भारतीय किसान सभा के संयुक्त सचिव बादल सरोज ने माकपा नेता अजीत लाल की स्मृति में आयोजित एक स्मरण सभा को संबोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि कॉमरेड लाल उनके गुरु थे और मध्यप्रदेश के जमाने में जब असंगठित मजदूरों के बीच में सीटू ने काम करने का फैसला किया था, तो उन्होंने देखते ही देखते बीड़ी, मण्डी, हमालों व अन्य असंगठित मजदूरों की 18 यूनियनें खड़ी कर दीं थीं। इनमे भी हरेक के नेता उन्ही उद्योग...
खारून नदी का देवरानी-जेठानी नाला से क्षेत्र के कृषक गढ़ेंगे अब नई कहानी, पाटन और गुरूर ब्लॉक के 5 किलोमीटर भू-भाग में जल आवर्धन का हुआ कार्य
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, दुर्ग, धमतरी, बालोद

खारून नदी का देवरानी-जेठानी नाला से क्षेत्र के कृषक गढ़ेंगे अब नई कहानी, पाटन और गुरूर ब्लॉक के 5 किलोमीटर भू-भाग में जल आवर्धन का हुआ कार्य

      रायपुर, 20 फरवरी 2021/छत्तीसगढ़ की राजधानी से होकर गुजरने वाली देवरानी-जेठानी नाला से अब पाटन और गुरूर ब्लॉक के कृषक अच्छा लाभ उठाते हुए अपनी नई कहानी गढ़ेंगे। यह राज्य शासन की महत्वकांक्षी ‘नरवा विकास योजना’ के तहत कैम्पा मद से 01 करोड़ 34 लाख रूपए की लागत राशि से 406 भू-जल आवर्धन संबंधी संरचनाओं के निर्माण से संभव हो पाया है।          वन मंत्री मोहम्मद अकबर के मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़ राज्य प्रतिकरात्मक वन रोपण निधि प्रबंधन एवं योजना प्राधिकरण के अंतर्गत प्रदेश के वन क्षेत्रों के नाला में काफी तादाद में भू-जल आवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण तेजी से जारी है। प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री राकेश चतुर्वेदी ने बताया कि देवरानी-जेठानी नाला दुर्ग जिले के पाटन और बालोद जिले के गुरूर क्षेत्र में पानी का महत्वपूर्ण स्रोत है। इसे ध्यान में रखते हुए कैम्पा के 2019-20 की वार्षिक कार्ययोजना...
पाटेश्वर धाम को वन विभाग की नोटिस साजिश,भड़का संत समाज
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, दुर्ग, धमतरी, बालोद, रायपुर

पाटेश्वर धाम को वन विभाग की नोटिस साजिश,भड़का संत समाज

 राजेश्वरानंद संत महासभा प्रदेश अध्यक्ष अंतर्राष्ट्रीय हिंदू महासभा प्रदेश अध्यक्ष मनोज कुमार अग्रवाल श्री उमाकांत मिश्रा भागवताचार्य अजय शरण देवाचार्य आचार्य रवि कांत शास्त्री दिनेश तिवारी पंडित शिवानंद शास्त्री एवं संत समाज के पदाधिकारी गण श्री पाटेश्वर धाम जाकर के महाराज बालयोगेश्वर राम बालक दास जी महा त्यागी जी से मुलाकात की एवं पूर्ण समर्थन देते हुए स्वामी जी ने कहा कि पूरा छत्तीसगढ़ प्रदेश अपितु पूरा भारत देश के सभी संत समाज हिंदू समाज ब्राह्मण समाज आपके साथ खड़ा रहेगा विदित हो कि पाटेश्वर धाम जिला बालोद छत्तीसगढ़ में श्री राम जानकी दास जी महत्यागी की तपस्थली है इस स्थान पर संपूर्ण देश भर के भक्तों द्वारा दिए गए दान की राशि से मां कौशल्या जन्मभूमि का भव्य मंदिर का निर्माण स्वामी राम बालक दास जी के मार्गदर्शन में किया जा रहा है लेकिन सितंबर माह 2020 से बालोद जिला वन विभाग के डीएफओ द्व...
दुगली आगजनी कांड में लीपापोती का प्रयास : माकपा
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी

दुगली आगजनी कांड में लीपापोती का प्रयास : माकपा

  मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने आरोप लगाया है कि दुगली आगजनी कांड में जांच के नाम पर प्रशासन द्वारा लीपापोती का प्रयास किया जा रहा है और आदिवासियों के घर जलाने, उनकी फसलों को नष्ट करने और कई सालों से उनका सामाजिक बहिष्कार जारी रहने के मूल सवाल को ही जांच के दायरे से गायब किया जा रहा है। आज यहां जारी एक प्रेस बयान में माकपा के धमतरी जिला सचिव समीर कुरैशी ने बताया कि जांच पूरी होने के पूर्व ही बड़े सुनियोजित तरीके से मीडिया में प्रचारित किया जा रहा है कि कोई आगजनी हुई ही नहीं है और वन प्रबंधन समिति ने केवल अवैध कब्जों को हटाया है, जबकि जलती आदिवासी झोपड़ियों की तस्वीरें सार्वजनिक हो चुकी है। उन्होंने कहा कि हमलावरों पर कार्यवाही करने के बजाए प्रशासन उनको बचाने का प्रयास कर रहा है। माकपा नेता ने कहा कि पीड़ितों से पंचनामा के नाम पर एक ऐसे कागज पर हस्ताक्षर करने के लिए प्रशासन द्वारा...
दुगली कांड पर माकपा की जांच रिपोर्ट जारी : विस्थापन के लिए आगजनी व सामाजिक बहिष्कार और न्याय के लिए अंतहीन इंतज़ार की कहानी
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी, रायपुर

दुगली कांड पर माकपा की जांच रिपोर्ट जारी : विस्थापन के लिए आगजनी व सामाजिक बहिष्कार और न्याय के लिए अंतहीन इंतज़ार की कहानी

? धमतरी जिले के नगरी विकासखंड के दुगली ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम बिरनपुर में 13 अक्टूबर 2020 को की गई आगजनी में 20 नहीं, 35 घर जलाए गए हैं. इस हमले का नेतृत्व कांग्रेस नेता शंकर नेताम कर रहा था, जो दुगली वन प्रबंधन समिति का अध्यक्ष भी है और जिसने मीडिया को दिए अपने बयान में स्वीकार किया है कि उसने इन घरों को हटाया है. पिछले पांच वर्षों में तीन बार इन आदिवासियों पर हमला करके उनके घरों को जलाया गया है, फसल को नष्ट किया गया है और पीड़ितों का सामाजिक बहिष्कार जारी है. इन हमलों में वन विभाग की भी स्पष्ट संलिप्तता सामने आई है, जिसने हमलावरों के साथ मिलकर पीड़ितों पर ही झूठे मुक़दमे दर्ज किए है और उन्हें जेलों में भेजा गया है. पीड़ित पुरूषों को उच्च न्यायालय से ही जमानत मिल पाई है. इन पांच वर्षों में पीड़ितों को 2 करोड़ रुपयों का नुकसान पहुंचा है. पीड़ितों द्वारा बार-बार स्थानीय थाने, एसपी और कले...
राजीव-राहुल-भूपेश के गोदग्राम दुगली में ताकतवरों ने जलाई आदिवासियों की झोपड़ियां, किया सामाजिक बहिष्कार, माकपा ने कहा : कार्यवाही करो सरकार!
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी, रायपुर

राजीव-राहुल-भूपेश के गोदग्राम दुगली में ताकतवरों ने जलाई आदिवासियों की झोपड़ियां, किया सामाजिक बहिष्कार, माकपा ने कहा : कार्यवाही करो सरकार!

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने धमतरी जिले के नगरी विकासखंड के ग्राम दुगली के आश्रित ग्राम दिनकरपुर में वन ग्राम समिति और इस पंचायत के सरपंच, सचिव की अगुआई में 20 आदिवासी परिवारों के घरों को तोड़ने, आग लगाने, उनकी फसल को जानवरों से चराने और इन परिवारों का सामाजिक बहिष्कार करने के कृत्य की कड़ी निंदा करते हुए अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार करने, आदिवासियों को हुए नुकसान की सरकार द्वारा पूरी भरपाई करने तथा पीड़ित आदिवासी परिवारों को वन भूमि का पट्टा देने की मांग की है। आदिवासी परिवारों के घरों में कई गई आगजनी की तस्वीरों को जारी करते हुए आज यहां जारी एक बयान में माकपा राज्य सचिव संजय पराते ने कहा है कि 13 अक्टूबर को प्रशासन द्वारा उन्हें उजाड़े जाने के बाद पीड़ित आदिवासी परिवार पिछले पांच दिनों से बाल-बच्चों सहित धमतरी में अनिश्चितकालीन धरना पर बैठे हुए हैं, लेकिन प्रशासन चुप है। माकपा जिला ...
36 घण्टे की बारिश से नदी नाले उफान पर,नाले का उफान पार करता युवक बाल बाल बचा बाइक बह गई लोग मुंह फाडे देखते रहे
खास खबर, गरियाबंद, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धमतरी, महासमुंद

36 घण्टे की बारिश से नदी नाले उफान पर,नाले का उफान पार करता युवक बाल बाल बचा बाइक बह गई लोग मुंह फाडे देखते रहे

किशोर कर ब्यूरोचीफ महासमुंद महासमुंद- अंचल में हो रही लगातार बारिश के बाद सभी नदी नाले उफान पर आ गए इस बीच उफनती नाला को पार करते हुए एक बाइक सवार की बाइक नाला में बह गई। मामला बसना उड़ीसा पदमपुर मार्ग की है जहां बाइक सवार एक युवक दुस्साहस दिखाते हुए उफनती नाला को पार करने की कोशिश कर रहा था लेकिन नाला के बीच धार में पहुंचते ही उसकी बाइक बहने लगी और वह बाइक को संभाल नहीं पाया देखते ही देखते बाइक नाला के छोटे पुलिया के नीचे बह गई हालांकि युवक अपनी जान बचा कर वापस लौट आया । हम आपको बता दें कि पिछले 36 घंटे से लगातार बारिश के बाद अंचल के सभी नदी नाले उफान पर हैं और अनेक जगहों पर मार्ग में आवागमन भी बाधित होकर रह गया है कई गांव का संपर्क भी कट गया है।...
सैकड़ों लोगों ने दी कामरेड अजीत लाल को अंतिम विदाई, कहा : शोषणविहीन समाज के निर्माण के उनके सपनों को करेंगे पूरा
खास खबर, धमतरी, रायपुर

सैकड़ों लोगों ने दी कामरेड अजीत लाल को अंतिम विदाई, कहा : शोषणविहीन समाज के निर्माण के उनके सपनों को करेंगे पूरा

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के छत्तीसगढ़ राज्य सचिव मंडल के सदस्य तथा सीटू के पूर्व राज्य महासचिव अजीत लाल का 6 जुलाई को रायपुर एमएमआई में निधन हो गया। विगत 2 वर्षों से वह अस्वस्थ थे तथा साइब्रोसिस नामक बीमारी से गंभीर रूप से पीड़ित थे। 26 जून को उन्हें गंभीर अवस्था में एमएमआई में भर्ती कराया गया था। अपनी बीमारी के बावजूद बीमारी को ठेंगा दिखाने वाली सक्रियता से वे अपने अंतिम समय तक वामपंथी आंदोलन में सक्रिय थे। कल 7 जुलाई को उनका अंतिम संस्कार धमतरी में हुआ। फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सैकड़ों लोग उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए तथा उनके शव को पूरे पार्टी सम्मान के साथ ताबूत में बंद कर दफनाया गया। पार्टी के झुके झंडे के साथ निकाली गई उनकी शव यात्रा में शामिल होने वालों में माकपा राज्य सचिव संजय पराते, सचिव मंडल सदस्य धर्मराज महापात्र, एम के नंदी, राज्य समिति सदस्य समीर कु...