कोरबा

14 घंटे तक चला एसईसीएल मुख्यालय का घेराव, प्रबंधन झुका, रोजगार और पुनर्वास पर मानी मांगें, 18-19 को कार्य प्रगति पर फिर होगी बैठक
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, बिलासपुर

14 घंटे तक चला एसईसीएल मुख्यालय का घेराव, प्रबंधन झुका, रोजगार और पुनर्वास पर मानी मांगें, 18-19 को कार्य प्रगति पर फिर होगी बैठक

  कोरबा। छत्तीसगढ़ किसान सभा और भू विस्थापित रोजगार एकता संघ द्वारा बरसों पुराने भूमि अधिग्रहण के बदले लंबित रोजगार प्रकरण, मुआवजा, पूर्व में अधिग्रहित जमीन की वापसी, प्रभावित गांवों के बेरोजगारों को खदान में काम देने, शासकीय भूमि पर काबिजों को भी रोजगार, बसावट, मुआवजा, महिलाओं को स्वरोजगार, पुनर्वास गांव में बसे भू विस्थापितों को काबिज भूमि का पट्टा देने आदि मांगो को लेकर गेवरा एसईसीएल का घेराव रात 12 बजे तक चला। पहले दौर की वार्ता विफल हो जाने के बाद बिलासपुर मुख्यालय के अधिकारियों को भूविस्थापितों से बात करने के लिए गेवरा आना पड़ा। वार्ता रात 12 बजे तक चली। बैठक में कटघोरा एसडीएम कौशल प्रसाद तेंदुलकर, एसईसीएल बिलासपुर के ए.के.संतोषी, मिलिंद देशकर, कोरबा जिले में चारों एरिया के महाप्रबंधक और माकपा जिला सचिव प्रशांत झा, पार्षद राजकुमारी कंवर, किसान सभा नेता जवाहर सिंह कंवर, दीपक सा...
किसान सभा ने अग्निपथ को कहा भाड़े के सैनिक तैयार करने की योजना, पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

किसान सभा ने अग्निपथ को कहा भाड़े के सैनिक तैयार करने की योजना, पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन

  रायपुर। अखिल भारतीय किसान सभा से संबद्ध छत्तीसगढ़ किसान ने 'अग्निपथ' को भाड़े के सैनिक तैयार करने की योजना बताते हुए आज अम्बिकापुर, कोरबा, दुर्ग और धमतरी सहित पूरे प्रदेश में धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया, मोदी सरकार का पुतला जलाया और अधिकारियों को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। इस आंदोलन का आह्वान संयुक्त किसान मोर्चा ने किया था, जिसका किसान सभा एक महत्वपूर्ण घटक संगठन है। छत्तीसगढ़ किसान सभा के अध्यक्ष संजय पराते तथा महासचिव ऋषि गुप्ता ने कहा कि यह पूरी योजना हमारे देश की एकता, अखंडता और सुरक्षा को नजरअंदाज करके सेना को ठेके पर चलाने की योजना है, जिससे सेना का मनोबल गिरेगा और वह कमजोर होगी। इस योजना राष्ट्रविरोधी तथा रोजगार विरोधी करार देते हुए उन्होंने कहा है कि सैनिकों के नाम पर चौकीदार बनाने वाली इस योजना पर अमल की जिद से भाजपा-आरएसएस के राष्ट्रवाद, देशभक्ति और कॉर्पोरेटपर...
30 जून से एसईसीएल गेवरा ऑफिस पर भूविस्थापितों का घेरा डालो, डेरा डालो आंदोलन
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

30 जून से एसईसीएल गेवरा ऑफिस पर भूविस्थापितों का घेरा डालो, डेरा डालो आंदोलन

0 हंसिया, टंगिया उठाकर महिलाओं ने कहा -- छीनकर रहेंगे रोजगार का अधिकार* बांकी मोंगरा (कोरबा)। बरसों पुराने भूमि अधिग्रहण के बदले रोजगार देने के एसईसीएल के आश्वासन से थके भूविस्थापितों ने अब आर-पार की लड़ाई लड़ने का मन बना लिया है।उन्होंने 30 जून से गेवरा महाप्रबंधक कार्यालय पर घेरा डालो, डेरा डालो आंदोलन करने की घोषणा की है। दिन-रात चलने वाले इस घेराव में उन्होंने ऐलान किया है कि उनका आंदोलन तभी खत्म होगा, जब एसईसीएल प्रबंधन रोजगार के सवाल पर उनके पक्ष में निर्णायक फैसला करेगा। इस आंदोलन की तैयारियां भी आज से शुरू हो गई है। इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए आज छत्तीसगढ़ किसान सभा, जनवादी नौजवान सभा तथा रोजगार एकता संघ द्वारा एसईसीएल की खदानों से प्रभावित गांवों, भू विस्थापित किसानों और ग्रामीणों की एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें 20 गांवों के लोगों ने हिस्सा लिया। बैठक में कल से पर्चा, पो...
अग्निपथ : किसान सभा, नौजवान सभा ने मोदी सरकार का पुतला फूंक कर किया प्रदर्शन, कहा – जवान विरोधी, किसान विरोधी, राष्ट्रविरोधी परियोजना
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

अग्निपथ : किसान सभा, नौजवान सभा ने मोदी सरकार का पुतला फूंक कर किया प्रदर्शन, कहा – जवान विरोधी, किसान विरोधी, राष्ट्रविरोधी परियोजना

कोरबा। छत्तीसगढ़ किसान सभा और जनवादी नौजवान सभा के कार्यकर्ताओं ने आज यहां एसईसीएल के कुसमुंडा कार्यालय के सामने अग्निपथ योजना के खिलाफ उग्र नारेबाजी की तथा मोदी सरकार का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में शामिल लोगों का मानना है कि अग्निपथ योजना की अग्नि को अगर नहीं रोका गया, तो बेरोजगार युवा इसकी आग में जलकर भस्म हो जाएंगे। उनका आरोप है कि निजीकरण की जिन नीतियों को अब तक सरकारी प्रतिष्ठानों और सार्वजनिक उपक्रमों में लागू किया जा रहा था, उसे अब सेना में भी लागू करने से विध्वंस के सिवा और कुछ हाथ में नहीं आएगा। प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली और अन्य स्थानों पर आयोजित प्रदर्शनों पर बर्बर पुलिसिया हमले की भी तीखी निंदा की। प्रदर्शन को संबोधित करते हुए माकपा जिला सचिव प्रशांत झा ने कहा कि अग्निपथ योजना छल कपट और अति राष्ट्रवादी बयानबाजी के साथ सेना में चोर दरवाजे से ठेका प्रथा और अस्थाई...
हसदेव अरण्य को बचाने “जनसभा” में पारित हुआ 14 विधायकों और 2 सांसदों के इस्तीफे का प्रस्ताव।
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

हसदेव अरण्य को बचाने “जनसभा” में पारित हुआ 14 विधायकों और 2 सांसदों के इस्तीफे का प्रस्ताव।

अमित जोगी की उपस्थित में 32 गाँवों के पंचायत प्रतिनिधियों ने जनसभा कर हसदेव बचाने चार प्रस्ताव पारित किये।   - हसदेव उजाड़ने "भौरा मुख्यमंत्री" और "गिरगिट गैंग" के दोहरे मानदंडों को दोष दिया। रायपुर/अंबिकापुर, 11 जून, 2022: सरगुजा जिले के ग्राम पंचायत साल्ही, हरिहरपुर में आज हज़ारों की संख्या में लगभग 32 ग्रामों से आये वनवासियों ने विशाल जनसभा की। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) के अध्यक्ष अमित जोगी, लोरमी विधायक धरमजीत सिंह जी की अगुवाई में और सामाजिक कार्यकर्ता श्री सुदीप श्रीवास्तव तथा श्री आलोक शुक्ला जी के मार्गदर्शन  में हुई इस ऐतिहासिक जनसभा में 32 गाँवों के पंचायत प्रतिनिधियों ने जनसभा कर हसदेव बचाने चार प्रस्ताव पारित किये: 1) सरगुजा संभाग के सभी 14 विधायक और दो सांसद अपना इस्तीफ़ा दें जिससे हसदेव अरण्य में खनन परियोजनाओं कोबंद करने, राज्य और केंद्र सरकार पर दबाव बनाया जाए और ...
भाजपा हसदेव अरण्य पर घड़ियाली आंसू बहा रही खदान आबंटन मोदी सरकार ने किया रमन सरकार ने सहमति दिया था
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

भाजपा हसदेव अरण्य पर घड़ियाली आंसू बहा रही खदान आबंटन मोदी सरकार ने किया रमन सरकार ने सहमति दिया था

    रायपुर/07 जून 2022। हसदेव अरण्य मामलें में पूर्व मंत्री बृजमोहन का बयान भाजपा की अवसरवादी राजनीति को दर्शाता है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि हसदेव में कोल आबंटन मोदी सरकार ने किया है। तत्कालीन रमन सरकार की इसमें सहमति थी। छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता यदि वास्तव में यहां पर उत्खनन के विरोधी है तो मोदी सरकार के समक्ष जा कर विरोध प्रदर्शित करे और खदान आबंटन रद्द करने को कहें। हसदेव क्षेत्र में 2014 से 2018 तक केंद्र और राज्य दोनों जगह भाजपा की सरकार थी उसी समय कमर्शियल माइनिंग गतिविधियां आरम्भ किया। हसदेव अरण्य क्षेत्र में कमर्शियल माइनिंग के संदर्भ में राज्य सरकार की आपत्ति सहित 470 ग्राम सभाओं की आपत्ति को पूर्व में ही दरकिनार कर दिया गया था जिस के संदर्भ में केंद्रीय कोयला मंत्री का बयान भी सर्वविदित है कि “कोल खनन एरिया में पांचवी अनुसू...
हसदेव और सिलगेर आंदोलन के साथ किसान सभा ने की एकजुटता कार्यवाही : अडानी के उत्पादों के बहिष्कार का आह्वान
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

हसदेव और सिलगेर आंदोलन के साथ किसान सभा ने की एकजुटता कार्यवाही : अडानी के उत्पादों के बहिष्कार का आह्वान

    रायपुर। जल-जंगल-जमीन और प्राकृतिक संसाधनों की रक्षा के लिए तथा आदिवासियों के नैसर्गिक अधिकारों को कुचलकर लागू किये जा रहे कॉर्पोरेटपरस्त विकास के खिलाफ छत्तीसगढ़ किसान सभा द्वारा पूरे प्रदेश में हसदेव और सिलगेर में जारी आंदोलनों के साथ एकजुटता प्रकट की गई। इस सिलसिले में छत्तीसगढ़ किसान सभा के अध्यक्ष संजय पराते ने हसदेव अरण्य बचाओ संघर्ष समिति द्वारा आयोजित संकल्प सम्मेलन में हिस्सा लिया तथा सम्मेलन में उपस्थित लोगों को जल-जंगल-जमीन तथा अपने प्राकृतिक संसाधनों की रक्षा करने, विकास के नाम पर कांग्रेस-भाजपा की विनाशकारी कॉर्पोरेटपरस्त नीतियों को मात देने तथा अडानी के उत्पादों का बहिष्कार करने की शपथ दिलाई। अपने संबोधन में उन्होंने हसदेव और सिलगेर में चल रहे संघर्षों को व्यापक बनाने के लिए सभी जनवादी ताकतों, जन संगठनों और जन आंदोलनों की एकजुटता पर बल दिया, ताकि विकास परि...
हसदेव अरण्य पर फैसला लेने मुख्यमंत्री का ज़मीर मर चुका है, सरगुजा कांग्रेस के विरोध के बाद भी चुप है भूपेश  -कोमल हुपेंडी
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

हसदेव अरण्य पर फैसला लेने मुख्यमंत्री का ज़मीर मर चुका है, सरगुजा कांग्रेस के विरोध के बाद भी चुप है भूपेश -कोमल हुपेंडी

  आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी आप नेताओं के साथ हरिहरपुर में हसदेव अरण्य में पेड़ों की कटाई के विरोध में आंदोलनरत आदिवासियों को समर्थन देने धरना स्थल फिर से पहुंचे । कोमल हुपेंडी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का हसदेव अरण्य मामले में फैसला लेने के लिए अब ज़मीर मर चुका है। उन्हें अब जनहित और आम जनता की तकलीफें नहीं दिख रहीं हैं।आंदोलन स्थल पर बड़ी संख्या में प्रभावित ग्रामीण पेड़ों की कटाई का विरोध कर रहें हैं और आंदोलन पर बैठ गए हैं। प्रदर्शनकारियों में बड़ी संख्या महिलाओं और बच्चों की भी है।वहीं मौके पर आंदोलनकारियों से वन विभाग के अधिकारी बात मनाने के लिए आदिवासियों के बीच पहुंचे,किन्तु आम आदमी पार्टी के निवेदन के बाद भी उपस्थित पदाधिकारियों को कुछ जवाब न देकर वापस चले गए। कोमल हुपेंडी ने कहा कि बलपूर्वक इस कार्य को कर हम कभी वहां खदान नहीं खुलने देंगे ...
मंहगाई, बेरोजगारी और बेहाल अर्थव्यवस्था के खिलाफ वामपंथी पार्टियों ने किया प्रदर्शन
कोरबा, खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मंहगाई, बेरोजगारी और बेहाल अर्थव्यवस्था के खिलाफ वामपंथी पार्टियों ने किया प्रदर्शन

https://youtu.be/f0KUfVRGTwY   कोरबा। बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी व बेहाल अर्थव्यवस्था के खिलाफ वामपंथी पार्टियों के देशव्यापी आह्वान पर कोरबा में तानसेन चौक मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भाकपा तथा भाकपा (माले) ने संयुक्त रूप से प्रदर्शन कर मोदी सरकार की नीतियों की जमकर खिलाफत की तथा नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।                                            वामपंथी पार्टियों के आह्वान पर मजदूर संगठन सीटू और एटक, छत्तीसगढ़ किसान सभा, जनवादी नौजवान सभा तथा आदिनिवासी गण परिषद जैसे जन संगठनों के कार्यकर्ता भी प्रदर्शन में शामिल हुए। प्रदर्शन के बाद हुई सभा को माकपा जिला सचिव प्रशांत झा, भाकपा सचिव एम एल रजक, भाकपा (माले) के सचिव बी एल नेताम, सीटू जिला अध्यक्ष एस एन बेनर्जी, एटक के महासचिव हरिनाथ सिंह, छत्तीसगढ़ किसान सभा के जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह कंवर, जनवादी नौजवान सभा के दामोदर श्याम सहित ...