Sunday, April 21

खास खबर

मुख्यमंत्री ने हठयारिन माता मंदिर पहुंचकर की पूजा अर्चना
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री ने हठयारिन माता मंदिर पहुंचकर की पूजा अर्चना

रायपुर. मान्यता है कि हाट बाजार में आने वाले व्यापारी और जनता माता को सब्जी भेंट करने से सबकी सुरक्षा होती है औरजाता है. मान्यता है कि हाट बाजार में आने वाले व्यापारी और जनता माता को सब्जी भेंट करने से सबकी सुरक्षा होती है औरभेंट-मुलाकात में कुसुमकसा पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वहां हठयारिन माता मंदिर पहंुचकर पूजा अर्चना की और प्रदेशवासियों की खुशहाली की कामना की. हठयारिन माता को यहाँ स्थानीय हाट बाजार की सुरक्षा एवं समृद्धि के लिए पूजा जाता है. मान्यता है कि हाट बाजार में आने वाले व्यापारी और जनता माता को सब्जी भेंट करने से सबकी सुरक्षा होती है और समृद्धि आती है....
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा भेंट-मुलाकात ग्राम मालघोरी में की गई घोषणाएं
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा भेंट-मुलाकात ग्राम मालघोरी में की गई घोषणाएं

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज बालोद जिले में भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दूसरे दिन डौंडीलोहारा विधानसभा क्षेत्र के मालीघोरी पहुंचे. यहां सबसे पहले मुख्यमंत्री बघेल ने कुकुरदेव मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की. कुकुरदेव मंदिर से मुख्यमंत्री पदयात्रा कर भेंट मुलाकात स्थल तक पहुंचे. इस दौरान कई जगह पर लोगों ने फूल मालाओं से आरती उतारकर और कोदो अन्न से तौल कर अपने मुखिया का स्वागत किया. मुख्यमंत्री ने भी लोगों के पास पहुंचकर उनका अभिवादन स्वीकार किया. इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल सहित कई जनप्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे. मुख्यमंत्री बघेल ने मालीघोरी में कई विकास कार्यों की सौगात देने के साथ जनसामान्य की शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक सुविधाओं के विस्तार के लिए कई घोषणाएं की. यहां उन्होंने शासकीय पॉलिटेक...
छत्तीसगढ़ सरकार ने तीन IAS अफसरों के प्रभार में फेरबदल, देखिये आदेश…
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ सरकार ने तीन IAS अफसरों के प्रभार में फेरबदल, देखिये आदेश…

रायपुर: राज्य शासन द्वारा भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के नवीन पदस्थापना आदेश जारी किया गया है।
छत्तीसगढ़ ऐसी पावन धरती जहां कुत्ते की समाधि है आस्था का केंद्र, लोकश्रध्दा को सम्मान देने मुख्यमंत्री पहुंचे कुकुरदेव मन्दिर
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ ऐसी पावन धरती जहां कुत्ते की समाधि है आस्था का केंद्र, लोकश्रध्दा को सम्मान देने मुख्यमंत्री पहुंचे कुकुरदेव मन्दिर

छत्तीसगढ़ ऐसी पावन धरती है जहां एक बेजुबान जानवर को उसकी वफादारी के लिए देवता का दर्जा दिया जाता है और प्रदेश के मुखिया खुद इस गहरी लोकपरम्परा के सम्मान में सिर नवाते हैं। इसी की बानगी आज दिखी जब मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने अपने बालोद जिले के भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दूसरे दिन की शुरुआत खपरी स्थित कुकुरदेव मन्दिर में पूजा अर्चना से की। आस्था और आश्चर्य का अद्भुत संगम कुकुरदेव मन्दिर, मानव-पशु प्रेम की अनोखी मिसाल पेश करता है। यहां एक स्वामिभक्त कुत्ते की समाधि है जो लोकमान्यता के अनुसार अपने मालिक के प्रति आखिरी सांस तक वफादार रहा । मुख्यमंत्री ने कुकुरदेव मन्दिर में पूजा अर्चना कर प्रदेश की सुख समृद्धि और खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री ने मंदिर में रुद्राक्ष के पौधे का रोपण किया। उन्होंने मन्दिर के पुजारियों को वस्त्र प्रदान किये। स्वामी भक्त कुत्ते का स्मृतिस्थल है कुकुर देव मंद...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज बालोद जिले के डौण्डीलोहारा विधानसभा क्षेत्र में आम जनता से करेंगे मुलाकात…
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज बालोद जिले के डौण्डीलोहारा विधानसभा क्षेत्र में आम जनता से करेंगे मुलाकात…

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के अंतर्गत आज बालोद जिले के डौण्डीलोहारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम मालीघोरी और कुसुमकसा में आम जनता से मुलाकात कर शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के संबंध में फीडबैक लेंगे। मुख्यमंत्री दल्लीराजहरा में आयोजित रोड-शो में शामिल होंगे और वहां विभिन्न सामाज एवं संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे। जारी दौरा कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री 19 सितंबर को सुबह 10 बजे से 11.30 बजे तक गुण्डरदेही में अधिकारियों की बैठक लेकर शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की अद्यतन स्थिति की समीक्षा के बाद विभिन्न विकास कार्याें का शिलान्यास एवं लोकार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री इसके पश्चात हैलीकॉप्टर से डौण्डीलोहारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम मालीघोरी पहुंचेंगे और वहां दोपहर 12 बजे से 1.30 बजे तक आम जनता से भेंट-मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री इसके पश्चात कुसुमकसा जाएं...
रमदहा वाटरफॉल में दुर्घटना रोकने जिला प्रशासन करेगा पुख्ता प्रबंध
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

रमदहा वाटरफॉल में दुर्घटना रोकने जिला प्रशासन करेगा पुख्ता प्रबंध

रायपुर. रमदहा वाटरफॉल में पर्यटकों की डूबकर मृत्यु होने की घटना की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर शीघ्र ही पुख्ता प्रबंध करने जा रहा है. इस वाटरफॉल के एकदम नजदीक जाकर नहाने, तैरने और सेल्फी लेने की रोकथाम के लिए 500 मीटर के दायरे में रेलिंग लगाई जाएगी. कलेक्टर पी.एस. धु्रव ने 17 सितम्बर को अधिकारियों की टीम के साथ दो किलोमीटर पैदल चलकर रमदहा वाटरफॉल पहुंचे और वहां की स्थिति का जायजा लिया. पर्यटकों की सुरक्षा के मद्देनजर उन्होंने वाटरफॉल के एकदम नजदीक जाने के रास्ते को फिलहाल पत्थरों से तत्काल बंद करवाने के निर्देश दिए. दरअसल रमदहा जलप्रपात जाने के मार्ग में पर्यटकों का एक वाहन फंस जाने की वजह से रास्ता बाधित हो गया था, जिसकी वजह से कलेक्टर धु्रव अधिकारियों की टीम के साथ यहां पैदल चलकर पहुंचना पड़ा. गौरतलब है कि रमदहा फॉल मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिला मुख्यालय से लगभग...
विधानसभा क्षेत्र गुण्डरदेही को मिली सौगात
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

विधानसभा क्षेत्र गुण्डरदेही को मिली सौगात

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज भेंट मुलाकात कार्यक्रम के तहत विधानसभा क्षेत्र गुण्डरदेही के ग्राम बेलौदी पहुंचे. बघेल ने ग्राम बेलौदी स्थित मां दुर्गा एवं शीतला मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि की कामना करते हुए भेंट मुलाकात की शुरूआत की. मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों से चर्चा करते हुए कहा कि भेंट मुलाकात के पहले चरण में बस्तर और सरगुजा संभाग के लोगों से मुलाकात की. उसके बाद रायगढ़ और अब बालोद जिले में आपके पास गया हूँ. आज आपके बीच पहुंचकर बहुत ही खुशी का अनुभव हो रहा है. अर्जुंदा एवं गुण्डरदेही में स्वास्थ्य केन्द्र और अर्जुंदा में बस स्टेण्ड का होगा निर्माण मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की मांग पर गुण्डरदेही में एसडीओपी की होगी पदस्थापना करने की घोषणा की. इसी प्रकार अर्जुंदा और गुण्डरदेही के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के लिए भवन और अर्जुंदा में बस स्टेण्ड के निर्माण ...
सूरजपुर में हाथी के हमले में दो लोगों की मौत
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

सूरजपुर में हाथी के हमले में दो लोगों की मौत

कोरबा. छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में रविवार को हाथियों के हमले की अलग-अलग घटनाओं में दो बुजुर्गों की मौत हो गई. वन अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि घटना प्रेमनगर वन क्षेत्र में हुई, जहां पिछले एक सप्ताह से 12 हाथियों का झुंड घूम रहा है. सूरजपुर वन मंडल के संभागीय वन अधिकारी संजय यादव ने बताया कि पहली घटना अभयपुर गांव के पास रात करीब साढ़े 12 बजे हुई, जहां पीड़ितों में से एक मनबोध गोंड (70) और एक अन्य ग्रामीण जंगल के एक मंदिर में पूजा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि झुंड को देखकर, ग्रामीण भागने में सफल रहे, लेकिन हाथियों में से एक ने मनबोध को पकड़ लिया और उन्हें कुचलकर मार डाला. उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को जंगल में न जाने की चेतावनी दी गई है. इसी तरह, रायमती गोंड (70) पर उसी झुंड ने हमला किया, जब वह जनार्दनपुर गांव में अपनी झोपड़ी में सो रही थीं. उन्होंने कहा कि उनकी मौके पर ही मौत ह...
कांग्रेस की छत्तीसगढ़ इकाई ने राहुल को पार्टी अध्यक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव किया पारित
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

कांग्रेस की छत्तीसगढ़ इकाई ने राहुल को पार्टी अध्यक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव किया पारित

रायपुर/नयी दिल्ली. कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव की अधिसूचना जारी होने में कुछ ही दिन शेष रह जाने के बीच गांधी परिवार के प्रति निष्ठा रखने वालों और (कांग्रेस की) प्रदेश इकाइयों ने पार्टी की बागडोर संभालने के लिए राहुल गांधी पर दबाव बनाने की कोशिशें तेज कर दी हैं. उल्लेखनीय है कि राहुल कथित तौर पर यह संकेत देते रहे हैं कि वह अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) का प्रमुख नहीं बनने के अपने रुख में बदलाव नहीं करना चाहते. राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की इकाइयों ने राहुल को पार्टी का अध्यक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव पारित किये हैं. सिर्फ इन्हीं दोनों राज्यों में कांग्रेस अपने बूते सरकार में है. इस बीच, कांग्रेस की गुजरात इकाई ने भी राहुल को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की रविवार को मांग की. कुछ दिन पहले पार्टी ने कहा था कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि प्रस्ताव पारित कर कांग्...
भिलाई का ‘रूसी कॉम्प्लेक्स’ पांच दशक बाद भी भारत और रूस के बीच बंधन का प्रतीक
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, हेल्थ & लाइफ-स्टाइल

भिलाई का ‘रूसी कॉम्प्लेक्स’ पांच दशक बाद भी भारत और रूस के बीच बंधन का प्रतीक

भिलाई. छत्तीसगढ़ में ‘स्टील सिटी’ भिलाई के मध्य भाग में घूमने पर एक सुंदर आवासीय कॉलोनी दिखती है, जो 1970 के दशक के अंत में रूसी नागरिकों के लिए बसाई गई थी. दोनों ओर कतारबद्ध हरे-भरे पेड़-पौधों से युक्त चौड़ी सड़कों के मध्य स्थित ‘रूसी कॉम्प्लेक्स’ नामक आवासीय परिसर अब भी मजबूती से अपनी मौजूदगी दर्शाता है, जो भारत और रूस के बीच के बंधन का प्रतीक है. हालांकि, वहां अब कोई रूसी नहीं रहता है. राजधानी रायपुर से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित इस परिसर का इतिहास भिलाई इस्पात संयंत्र (बीएसपी) से जुड़ा है, जो 1950 के दशक में तत्कालीन सोवियत संघ के सहयोग से देश में स्थापित पहली एकीकृत इस्पात इकाइयों में से एक है. भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने 1959 में अविभाजित मध्य प्रदेश के भिलाई में इस इस्पात संयंत्र का उद्घाटन किया था, जो अब छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में स्थित है. बड़ी संख्या में बिहार...