Friday, February 23

Tag: राजदंड बिना सब सूना

राजदंड बिना सब सूना, (व्यंग्य : राजेन्द्र शर्मा)
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

राजदंड बिना सब सूना, (व्यंग्य : राजेन्द्र शर्मा)

विपक्ष वालों‚ ऐसी भी क्या तंग–दिली। संसद की नई बिल्डिंग बनवाने के लिए न सही‚ नई बिल्डिंग का उद्घाटन करने तक का सारा बोझ अकेले ही उठाने के लिए भी न सही‚ पर कम-से-कम नये इंडिया को उसके पचहत्तर साल से खोए राजदंड से दोबारा मिलाने के लिए तो‚ थैंक यू मोदी जी‚ बनता ही है। थैंक यू भी बड्ड़ा वाला। कोरोना के टीके वाले‚ पांच किलो मुफ्त अनाज के फोटोयुक्त थैले वाले‚ थैंक यू से भी बड़्ड़ा वाला थैंक यू। थैंक यू मोदी जी‚ कम से कम लोक सभा वाली संसद को डंडायुक्त कराने के लिए! देखा‚ इस मामले में भी गलती नेहरू जी की ही निकली। राजदंड तक संभाल कर नहीं रख पाए। सुना है कि घर पर रखकर ही भूल गए। इत्ती लापरवाहीॽ अब मोदी जी कुछ बोलेंगे, तो विरोधी बोलेंगे कि नेहरू जी के खिलाफ बोलता है। अरे जब राजदंड संभालने की कुव्वत ही नहीं थी‚ तो उचक कर कुर्सी पर बैठने की क्या जरूरत थी। नहीं बैठते। सरदार पटेल को बैठ जाने देते; फि...