Sunday, April 14

नेशनल लोक अदालत में 1,37,74,834  रूपये का अवार्ड पारित किया गया

बेमेतरा 12 नवम्बर 2022/राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण (नालसा) नई दिल्ली के निर्देशानुसार वर्ष 2022 में आयोजित होने वाले नेशनल लोक अदालत के अनुक्रम में मुख्य संरक्षक छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण एवं कार्यपालक अध्यक्ष छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के मार्गदर्शन में छ.ग. राज्य में तालुका स्तर से लेकर उच्च न्यायालय स्तर तक सभी न्यायालयों में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें राजीनामा योग्य प्रकरणों में पक्षकारों की आपसी सहमति व सुलह समझौता से निराकृत किये गये है। लोक अदालत में प्रकरणों के पक्षकारों की भौतिक तथा वर्चुअल दोनो ही माध्यमो से उनकी उपस्थिति में प्रकरण निराकृत किये जाने के अतिरिक्त स्पेशल सिटिंग के माध्यम से भी पेटी ऑफेंस के प्रकरणों को निराकृत किये गये है।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री जयदीप विजय निमोणकर द्वारा मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के कुल 08 मामले निपटाये गये जिसमे कुल 4140000 क्लेम राशि पीड़ित पक्षकार को प्रदान करने का अवार्ड पारित किया गया एवं सिविल सूट प्रकरण में राशि 288735 तथा निष्पादन प्रकरण में 247965 /- रूपये का आवार्ड पारित किया गया। श्री विजय कुमार होता, प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय बेमेतरा द्वारा कुल 20 पारिवारिक प्रकरणों का निराकरण किया गया। इसी प्रकार प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश श्रीमान पंकज सिन्हा द्वारा कुल 10 मामले निपटायें गये जिसमे कुल 8375000 क्लेम राशि पीडित पक्षकार को प्रदान करने का अवार्ड पारित किया गया। श्रीमती मधु तिवारी अपर सत्र न्यायाधीश POCSO न्यायालय बेमेतरा द्वारा प्री-लिटिगेशन संबंधी 13 मामलों में कुल 279257/- रूपये राशि का अवार्ड पारित किया गया।
मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती मोनिका जायसवाल, के खंडपीठ द्वारा कुल 81 मामलों में कुल 40000 /- रूपयें राशि का अवार्ड पारित किया गया। द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1, श्रीमती तनुश्री गबेल द्वारा कुल 39 मामलों में 454180 / – राशि का आवार्ड पारित किया गया। अध्यक्ष किशोर न्याय बोर्ड बेमेतरा के खंडपीठ द्वारा कुल 34 मामलें निराकृत किये गये। तृतीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2, श्रीमती कामिनी वर्मा द्वारा कुल 85 मामलों में 32900 /- रूपये का आवार्ड पारित किया गया। निराकृत किये गये। तालुका विधिक सेवा समिति साजा के अध्यक्ष / न्यायिक मजिस्ट्रेट साजा श्रीमती अंकिता मुदलियार द्वारा कुल 142 मामले निराकृत किये गये। पूर्व के नेशनल लोक अदालत के भांति इस बार भी कलेक्टर श्री जितेन्द्र कुमार शुक्ला के मार्गदर्शन में कुल 2437 राजस्व प्रकरण निराकृत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *