Saturday, May 18

संकल्प पत्र से साबित, भाजपा संविधान बदलना चाहती है: कांग्रेस

रायपुर। भाजपा के संकल्प पत्र से साबित हो रहा है कि भाजपा संविधान बदलना चाहती है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के संकल्प पत्र में उल्लेख है कि भाजपा एक देश एक चुनाव लागू करेगी। भाजपा का यह संकल्प संविधान की मूलभावनाओं के विपरीत है। इसको लागू करने के लिये अनेक चुनी हुई सरकारों के कार्यकाल को अनेकों जनप्रतिनिधियों के कार्यकाल को बाधित किया जायेगा जो असंवैधानिक है। संविधान में बदलाव की नीयत से ही भाजपा 400 पार का नारा दे रही है जो बुरी तरह से धराशायी होने वाला है। भाजपा के एक सांसद सहित अनेकों भाजपा नेताओं ने बार-बार कहा भी है कि हम संविधान को बदलने के लिये 400 की बात कर रहे है। आरएसएस और भाजपा का षड़यंत्र इनके नेताओं की जुबान पर आने के बाद अब चुनावी संकल्प पत्र में भी उजागर हो गया है।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा का मातृ संगठन आरएसएस तो शुरू से ही संविधान के प्रावधानों के खिलाफ रहा है। देश की जनता की जनादेश के सामने इनकी चल नहीं पा रही है इसीलिये यह कुछ कर नहीं पाये, आरएसएस भारत के राष्ट्रध्वज, संविधान और संवैधानिक व्यवस्था को अनमने ढंग से स्वीकार करता है अब यह लोग 400 पार का सपना देख रहे है ताकि देश के संविधान और संवैधानिक मूल्यों में छेड़ छाड़ कर सके।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के 400 पार की हवा इंडिया शाइनिंग और फीलगुड के समान निकल जायेगी। ‘न नौ मन तेल होगा, और न राधा नाचेगी’ भाजपा कुछ भी कर लें 2024 का लोकसभा चुनाव भाजपा और उसके नेतृत्व के फासीवादी सोच, मोदी सरकार के पतन का कारण बनेगा। जनता भाजपा के खिलाफ मतदान करने जा रही है। जनता अपने संविधान और संवैधानिक अधिकारों की रक्षा के लिये भाजपा के खिलाफ मतदान करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *