Saturday, May 18

अखिलेश यादव ने BJP से पूछे 109 ‘सच्चे सवाल’ कहा- ‘जनता झूठी सरकार उखाड़ फेंकेगी’

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 में चुनावी प्रक्रिया जारी है. वहीं दो चरणों में चुनाव भी संपन्न हो चुके है. वहीं तीसरे चरण के चुनाव के लिए 7 मई को वोटिंग होनी है. इस चुनावी माहौल में राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे के ऊपर आरोप लगाते हुए दिख रही है. सभी पार्टियां अपनी विरोधी पार्टियों से सवाल पूछते नजर आ ही रहे है.

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीजेपी को लेकर बयानबाजी करते रहते है. यूपी में तीसरे चरण में होने वाले मतदान के पहले अखिलेश यादव ने बीजेपी को लेकर जमकर हमला बोला है. उन्होंने सोशल मीडिया साइट एक्स पर एक पोस्ट ट्वीट कर सपा से 109 सवाल पूछे है. वहीं इन्होंने इस सवाल का शीर्षक भाजपा की झूठी सरकार, जनता के सच्चे सवाल रखा है. समाजवादी पार्टी ने तो अपने इस 109 सवाल में कई बातों का जिक्र किया है.

‘कोरोना वैक्सीन पर उठाए सवाल’
भाजपा ने बिना जांच-परीक्षण के कोराना का जानलेवा टीका जनता को क्यों लगावाया. वहीं पार्टी ने कोरोना वैक्सीन बनानेवाली कंपनी से करोड़ों रुपये खाकर जनता के जीवन को जोखिम में क्यों डाला. मानकों पर बिना खरा उतरे अपने समर्थकों की दवाई व अन्य उत्पादों को बिकने क्यों दिया.

भाजपा ने किसानों के रास्ते में कांटे क्यों बिछाये. उन्होंने किसानों पर लाठी क्यों चलाई. इसके बाद किसानों से समयबद्ध भुगतान के झूठे वादे क्यों किए. किसानो के खाद के बोरी से चोरी क्यो करी. किसानों को एमएसपी पर झूठ क्यों बोला गया. किसानों को जान से मारने की धमकी देने और फिर सच में मारने वालों को अपने साथ क्यों रखा. जब आप अमीरों का लाखों करोड़ों का कर्ज माफ किया है तो किसानों-कारोबारियों का कर्ज माफ क्यों नहीं किया.

‘अपराधियों को अपना साथी क्यों बनाया’
भाजपा ने मणिपुर जैसे नारी के अभूतपूर्व अपमान पर अपना मौन और मुख्यमंत्री को बनाए क्यों रखा. नारी के इज्जत से खिलवाड़ करने वाले कर्नाटक काण्ड के पूर्व-ज्ञात अपराधी को साथी क्यों बनाया. भाजपा ने बलात्कारियों को क्यों छोड़ा और माला डालकर उनका सम्मान किया. पार्टी ने अपने दल में शामिल लोगों को यूनिवर्सिटी कैंपस में छात्रा के साथ कुकर्म करने का साहस क्यों दिया. हाथरस में दलित बेटी के बलात्कर व मृत्यु के बाद भी अंतिम संस्कार का हक क्यों छीना.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *