Friday, June 21

सीईओ मिश्रा ने सरसों फसल क्षेत्र का किया निरीक्षण धान के बदले दलहन-तिलहन की भी फसल लेने किसानों को किया प्रोत्साहित

रायगढ़, 16 जनवरी 2023/ सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा ने आज विकासखण्ड रायगढ़ के ग्राम तरकेला, कोतरा एवं ठाकुरपाली में रबी फसल अन्तर्गत दलहन, तिलहन क्षेत्र विस्तार के तहत कृषि विभाग द्वारा उप संचालक कृषि रायगढ़ के मार्गदर्शन में लगवाये गये वृहद सरसों फसल क्षेत्र का निरीक्षण किया।
सीईओ श्री मिश्रा ने कहा कि जिले के किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचाने एवं फसलों के चक्रीकरण हेतु कृषि विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों को शासन की योजनाओं का समय पर क्रियान्वयन करते हुए हितग्राहियों को जमीनी स्तर पर लगातार आवश्यक मार्गदर्शन दिया जा रहा है। साथ ही धान के बदले अन्य फसलों जैसे दलहन-तिलहन फसलों को लेकर किसानों को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्पादन और क्षेत्रफल के दृष्टिकोण से देखा जाये तो खाद्य तेल के रूप में प्रयोग होने वाली फसलों में सरसों प्रमुख तिलहन फसलों में से एक हैं। सरसों की फसल कम पानी की दशा में पककर अच्छा मुनाफा देने वाली खेती में से एक है। कृषि विभाग द्वारा सरसों फसल क्षेत्र विस्तार हेतु विभागीय योजनाए जैसे टी.आर.एफ.ए.,द्विफसली क्षेत्र विस्तार में फसल प्रदर्शन एवं नि:शुल्क मिनिकीट बीज प्रदान कर प्रोत्साहित किया जाता है। रायगढ़ विकासखण्ड के ग्राम-तरकेला में 80 एकड़, कोतरा में 95 एकड़ और ठाकुरपाली में 150 एकड़ में कृषकों ने सरसों की खेती किए है।
सरसों की खेती कर रहे कृषकों ने किया अनुभव साझा
सीईओ श्री मिश्रा ने आज निरीक्षण के दौरान क्षेत्र के कृषकों से उनके द्वारा लगाये गये सरसों की खेती के बारे में चर्चा की और उन्होंने उनका अनुभव जाना। इस दौरान तरकेला के कृषक श्री विजय चौधरी, कोतरा के भागीरथी डनसेना एवं ठाकुरपाली के घनश्याम पटेल, झनकराम पटेल, लक्ष्मीनारायाण पटेल एवं रघुनाथ पटेल ने बताया कि बार-बार धान की फसल लेने से उत्पादन में कमी आती है एवं भूमि की उर्वरता क्षीण होती जाती है तथा रबी मौसम की धान की फसल का बाजार भाव बहुत ही कम रहता है, जिसके कारण सरसों की फसल से लाभ होना बताया और भविष्य में अधिक क्षेत्र में दलहन, तिलहन फसल लगाने की बात कही। सरसों फसल लगाने से लागत में कमी होने और उचित बाजार मूल्य प्राप्त होने से कृषकों का रूझान बढ़ा है। बाजार में फसल कटने पर 55-60 रू. प्रति किलोग्राम की दर से विक्रय कर लेते है और प्रति एकड़ 5-6 क्विंटल तक उपज मिल जाता है। जिससे प्रति एकड़ लगभग 20-25 हजार रूपये लाभ प्राप्त हो जाता है।
इस मौके पर अनुविभागीय कृषि अधिकारी श्री हरिश कुमार राठौर, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री अभिषेक पटेल, कृषि विकास अधिकारी श्री निलांबर प्रसाद सिदार, श्री दाताराम नायक, श्री प्रहलाद पटेल, श्री तरूण पटेल, बी.डी.सी. कोतरा श्री अजय पाल डनसेना ग्राम के कृषकगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *