Friday, April 19

छत्तीसगढ़: पति-पत्नी और बेटी की हत्या मामले में 6 आरोपी गिरफ्तार…

जशपुर: जशपुर में तेंदुआ परिवार में हुये ट्रिपल मर्डर मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने गांव के ही 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने जमीन विवाद और टोनही के शक में अर्जून तेंदुआ, पत्नी फिरनी तेंदुआ और बेटी संजना तेंदुआ की धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी थी। इस पूरे मामले का खुलासा एसपी डी रविशंकर, एएसपी उमेश कश्यप ने किया। दरअसल, 6 अक्टूबर को सिटी कोतवाली जषपुर के कदमटोली घोलेंग में अर्जुन तेंदुआ और उसकी पत्नी व बेटी की किसी ने बेरहमी से हत्या कर दी थी।

इसकी षिकायत मिलते ही एसपी और पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। ट्र्पिल मर्डर की सनसीखेज वारदात को देखते हुये एसपी डी रविशंकर ने एडिशनल एसपी उमेश कश्यप को जांच कर आरोपियों को जल्द गिरफतार करने के निद्रेश दिये। पुलिस और सायबर सेल की संयुक्त टीम ने जांच शुरू की।

इस दौरान कुछ लोगों से पूछताछ में पता चला कि मृतक अर्जुन तेंदुआ का गांव के ही बिंदेश्वर बंजुआ, प्रेमचंद बंजुआ, करन, आरजू बंजुआ से जमीन और आपसी विवाद चल रहा है। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने सभी संदेहियों को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की। पूछताछ में पता चला कि प्रेमचंद बंजुआ का आज से तीन माह पूर्व एक पूत्र हुआ था। लेकिन खराब स्वास्थ्य होने के चलते उसके पुत्र की मौत हो गई थी।

मौत का जिम्मेदार मृतक अर्जुन तेंदुआ को आरोपी प्रेमचंद मानता था। उसे षक था कि अर्जुन जादू टोना कर उसके पुत्र को मरवा दिया है। साथ ही मृगपाल बंजुआ का अर्जुन से भी काफी लंबे समय से जमीन विवाद चल रहा था। इन्ही सब बतों से सभी लोग मृतक अर्जुन और उसके परिवार से बदला लेना चाहते थे।

सभी ने एक राय होकर मृतक के पूरे परिवार को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। योजना के तहत ही बिन्देष्वर बंजुआ, प्रेमचंद बंजुआ, मृगपाल बंजुआ, करन तेंदुआ, आरजु तेंदुआ और प्रवीण तेंदुआ 5 अक्टूबर की रात 9 बजे अर्जुन के घर पहुंचे। यहां पर सभी ने मिलकर चाकू, हथौड़ी, तलवार और खूखरी से हमला कर तीनों की हत्या कर दी। हत्या के बाद सभी आरोपी अपने अपने घर चले गये थे। फिलहाल पुलिस ने सभी को गिरफतार कर जेल भेज दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *