Thursday, June 20

जेनेरिक दवाओं से नागरिकों को 79.39 करोड़ रूपए से ज्यादा की हुई बचत

रायपुर, 29 दिसम्बर 2022/ छत्तीसगढ़ शासन द्वारा नागरिकों को उच्च गुणवत्ता की जेनेरिक दवाएं सस्ती दर पर उपलब्ध कराई जा रही है। इसके लिए राज्य के सभी नगरीय निकायों में श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना के तहत जेनेरिक दवाओं की दुकानों का संचालन किया जा रहा है। इन दुकानों में देश की ख्याति प्राप्त कंपनियों की जेनेरिक दवाईयों पर 50 से 70 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है। धनवन्तरी दवा दुकानों में सर्दी, खांसी, बुखार, ब्लड प्रेशर, इन्सुलिन के साथ गंभीर बीमारियों की दवा, एंटीबायोटिक, सर्जिकल आईटम भी रियायती मूल्य पर जरूरतमंदों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं।
नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना 20 अक्टूबर 2021 से शुरू की गई है। योजना के तहत राज्य के समस्त 169 नगरीय निकायों में 193 श्री धनवंतरी मेडिकल स्टोर खोले गये हैं। शासकीय चिकित्सकों को अस्पताल में इलाज हेतु आने वाले मरीजों को जेनेरिक दवाई लिखना अनिवार्य किया गया है। योजना से अब तक 119.98 करोड़ रूपए एम.आर.पी. की दवाईयों के विक्रय पर 79 करोड़ 39 लाख रूपए की छूट जरूरतमंद लोगों को दी गई है। गौरतलब है कि प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकाय में संचालित धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल की दुकानों से 37 लाख 58 हजार से अधिक नागरिकों ने सस्ती दवायें खरीदी है। जिससे लोगों को काफी राहत मिली है और कम मूल्य पर दवा उपलब्ध होने से बचत हो रही है।
धनवंतरी योजना के अंतर्गत संचालित दुकानों में रायपुर जिले में 19, गरियाबंद में 4, बलौदाबाजार-भाटापारा में 7, धमतरी 7 और महासमुंद जिले में 6 सस्ती जेनेरिक दवाओं की दुकान संचालित की जा रही है। इसी तरह दुर्ग में 18, बालोद में 8, बेमेतरा में 8, राजनांदगांव में 5, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में 3, मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ में 1 और कबीरधाम में 6 दुकान संचालित की जा रही है। बिलासपुर में 10, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 2, मंुगेली में 4, कोरबा में 6, जांजगीर-चांपा में 9, सक्ती में 6, रायगढ़ में 8 और सारंगढ़-बिलाईगढ़ में 5 सस्ती दवा के स्टोर्स संचालित किए जा रहे है। जशपुर जिले में 5, सरगुजा में 4, बलरामपुर में 5, सरगुजा में 6, कोरिया में 2 और मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में 5 सस्ती जेनेरिक दवाओं के स्टोर्स संचालित किए जा रहे है। इसी तरह से बस्तर जिले में 3, कोण्डागांव में 3, नारायणपुर में 1, कांकेर में 6, दंतेवाड़ा में 5, सुकमा में 3 और बीजापुर में 3 जेनेरिक दवाओं के स्टोर्स संचालित किए जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *