Saturday, June 22

कलेक्टर ध्रुव ने सड़क निर्माण में अमानक गिट्टी के उपयोग के मामले में की कार्रवाई

गुड़घेला नाला से सिंद्यत सड़क निर्माण की जांच शुरू

रायपुर, 31 दिसंबर 2022/ मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले में गुड़भेला नाला से सिंद्यत तक निर्माणाधीन सड़क की गुणवत्ता की जांच शुरू कर दी गई है। इस निर्माणाधीन सड़क के डामरी करण कार्य में अमानक गिट्टी का मामला कलेक्टर श्री पी.एस. ध्रुव ने स्वयं मौका मुआयना के दौरान पकड़ा था। कलेक्टर ने सड़क निर्माण में अमानक गिट्टी के उपयोग पर तत्काल रोक लगाने के साथ इस मामले की जांच के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए थे। कलेक्टर ने मिक्स प्लांट में भण्डारित एवं कंटेनर में भरी गिट्टी को भी प्लांट से हटवाये जाने की कार्रवाई की थी।

गौरतलब है कि मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले में ग्रामीण सड़कों के निर्माण एवं मरम्मत कार्य पर कलेक्टर श्री पी.एस. ध्रुव स्वयं निगरानी रख रहे हैं। सड़क निर्माण कार्य की गुणवत्ता को देखने के लिए वह लगातार विभिन्न अंचलों का दौरा कर निर्माणाधीन सड़कों की लेयरों की मोटाई, उसमें प्रयुक्त मटेरियल की गुणवत्ता और सड़क की चौड़ाई आदि की जांच भी मौके पर तकनीकी अधिकारियों से करा रहे हैं। 24 दिसंबर को कलेक्टर ने खड़गवां विकासखंड में गुड़भेला नाला से सिंद्यत, दुग्गी से खड़गवां तथा कोरबा से चिरमिरी सड़क निर्माण कार्य का औचक निरीक्षण किया। कलेक्टर ने गुड़भेला नाला से सिंद्यत सड़क डामरीकरण कार्य के निरीक्षण के दौरान वहां बिछायी जा रही 19 एम.एम. मिक्स गिट्टी का कुछ पार्ट्स रोलर चलाने से टूटने का मामला सामने आने पर इस गिट्टी के उपयोग पर तत्काल रोक लगाये जाने और सड़क निर्माण कार्य की गुणवत्ता की जांच के निर्देश दिए थे। इस दौरान उन्होंने ग्राम पंचायत मंझोली स्थित हॉट मिक्स प्लांट पहुंचे और वहां तैयार किए जा रहे डामरयुक्त गिट्टी का मुआयना किया। कलेक्टर ने गिट्टी की क्वालिटी अमानक पाये जाने पर प्लांट में रखी गिट्टी को तत्काल वहां से हटवाये जाने के निर्देश दिए थे।

गुड़घेला नाला से सिंद्यत सड़क का निर्माण एवं डामरीकरण 3 करोड़ 12 लाख रूपए की लागत से किया जा रहा है। इस सड़क की लंबाई 3.1 किलोमीटर है। मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले में लगभग 60 करोड़ रूपए की लागत से कई ग्रामीण सड़कों का निर्माण एवं मरम्मत का कार्य कराया जा रहा है, जिसमें जनकपुर बाईपास सड़क का निर्माण 3 करोड़ 35 लाख 78 हजार रूपए की लागत से कराया जा रहा है, यह बाईपास 1.50 किलोमीटर लंबाई की है। इसी तरह जिले में 3.73 करोड़ रूपए की लागत से सरभोका से डोंगरीटोला सड़क, 8.09 करोड़ की लागत से पेण्ड्री अटल चौक से मटुकपुर मार्ग, 6.09 करोड़ की लागत से घुटरा से मुसरा मार्ग, 2.19 करोड़ रूपए की लागत से केल्हारी चौक से मध्यप्रदेश सीमा तक सड़क, 3.12 करोड़ रूपए की लागत से गुड़घेला नाला से सिंद्यत सड़क, 5.95 करोड़ रूपए की लागत से दुग्गी से खड़गवां, 2.58 करोड़ रूपए की लागत से मनेन्द्रगढ़-लेदरी-पाराडोल सड़क, 3.34 करोड़ रूपए की लागत से लेदरी से गुरचहवा मार्ग, 7.52 करोड़ रूपए की लागत से भरतपुर विकासखण्ड अंतर्गत माथमौर से भैसुन सड़क तथा 4.18 करोड़ रूपए की लागत से भगवानपुर से मां चांग देवी मार्ग का निर्माण कार्य शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *