Sunday, April 21

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश के कारण महानदी के किनारे बसे 40 गांव बाढ़ की चपेट में,

रायगढ़: छत्तीसगढ़ ओडिशा सीमा पर महानदी के जलस्तर बढ़ जाने के कारण वहां बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है, कई गांव में बाढ़ पानी घुस गया है। जिला मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कम से कम 40 गांव प्रभावित हुआ है। गांव वालों को राहत देने के लिए कैंप भी बनाया गया है।

जिला प्रशासन के अनुसार किसी भी परिस्थिति से निबटने के लिए वहां नोडल अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गई है। कलेक्टर रानू साहू और एसपी अभिषेक मीना सहित कई अधिकारी प्रभावित क्षेत्र के दौरे पर हैं और  वहां की स्थिति का जायजा ले रहे हैं। ज्यादातर गांवों को खाली कराया जा चुका है। लोगों को वहां से निकलकर सुरक्षित जगहों पर ले जाया जा रहा है। आसपास के गांवों में कैंप भी बनाया गया है, जहां प्रभावित ग्रामीणों को रखा गया है।

बताया जाता है कि सूरजगढ़, पड़ीगांव, पोरथ सहित 40 गांव बाढ़ की चपेट में हैं। जिला प्रशासन ने पुसौर, सरिया, बरमकेला, सारंगढ़ में उनके लिए कैंप बनाए हैं जहां उन्हें रखा जा रहा है। वहां उनके लिए रुकने, खाने -पीने और दवाओं का भी इंतजाम किया गया है। ग्रामीणों को वहां से निकलने का काम भी प्रशासन कर रही है।

यह स्थित गंगरेल से भारी मात्रा में पानी छोड़े जाने के कारण उत्पन्न हुई है। हालांकि बताया जा रहा है की हीराकुंड बांध के भी 30 से ज्यादा गेट खोल दिए गए हैं जिससे जल्द ही महानदी का जलस्तर कम होने की संभावना है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *