Wednesday, June 19

10 फ़रवरी को शंकराचार्य स्वामी श्रीनिश्चालानंद जी के आगमन को ऐतिहासिक बनाने क्षेत्रवासियों में दिख रहा उत्साह

राष्ट्रोत्कर्ष अभियान के माध्यम से पूरे विश्व मे सनातन धर्म के प्रचार एवं देहभर में सनातन संस्कृति के संरक्षण तथा प्रसार हेतु भारत भ्रमण पर निकले ऋग्वेदीय पूर्वाम्नाय गोवर्धनमठ जगन्नाथपुरी के पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज के आगमन को लेकर धर्मप्रेमियों में उत्साह दिख रहा है। कबीरधाम जिले के ग्राम रणवीरपुर में उनके आगमन के पूर्व उत्सव का माहौल है और हर व्यक्ति उनके भव्य स्वागत के लिए अपने-अपने स्तर पर तैयारियों में जुटे हुए हैं तथा विभिन्न माध्यमों से लोगों को उनके आगमन की जानकारी दे रहें हैं। लगभग 7 वर्षों के बाद शंकराचार्य जी का कबीरधाम जिले में आगमन हो रहा है इस वजह से भी जिले के धर्मप्रेमियों एवं भक्तजनों में एक नई उर्जा के साथ भरपूर उत्साह देखने को मिल रहा है जिसे देखते हुए हजारों की संख्या में प्रदेश के विभिन्न कोने से श्रद्धालुओं एवं अनुयायियों के आगमन की संभावना है।

धर्मसभा को संबोधित करने हेतु पधार रहे शंकराचार्य जी के आगमन को लेकर कार्यक्रम की आयोजिका भावना बोहरा ने जानकारी देते हुए बताया कि 9 फ़रवरी 2023 को संध्या में उनका पावन आगमन होगा और 10 एवं 11 फ़रवरी 2023 को ग्राम रणवीरपुर में विशाल धर्मसभा तथा संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। शंकराचार्य जी के आगमन को लेकर पूरे कबीरधाम की जनता, धर्मप्रेमी एवं क्षेत्रवासी पूरे उत्साह के साथ उनके भव्य स्वागत के लिए जोर-शोर से तैयारियों में जुटे हुए हैं। समायोजक आदित्यवाहिनी-आनंदवाहिनी जिला कबीरधाम के सदस्यों द्वारा भी शंकराचार्य जी के स्वागत को ऐतिहासिक एवं भव्य बनाने के लिए ग्रामवासियों के साथ बैठक कर उनके स्वागत तथा धर्म सभा की तैयारियों को लेकर समय समय पर चर्चा की जा रही है।

उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति के संरक्षण व उसके प्रसार के उद्देश्य से राष्ट्रोत्कर्ष अभियान के तहत शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज के पावन आगमन तथा धर्मसभा एवं उनके स्वागत को लेकर ग्रामीणों व क्षेत्रवासियों द्वारा भव्य तैयारियां की जा रही है और पूरे जिले में एक सकारात्मक उर्जा का प्रवाह देखने को मिल रहा है। स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी 9 फ़रवरी को संध्या में ग्राम रणवीरपुर पधारेंगे और 10 फ़रवरी को सुबह 11:30 बजे स्कूल ग्राउंड बाजार चौक, रणवीरपुर में विशाल धर्मसभा को संबोधित कर अपने आशीर्वचन से हम सभी का मार्गदर्शन करेंगे तत्पश्चात शाम 5 बजे प्रेस वार्ता में पत्रकार साथियों से रूबरू होंगे। 11 फ़रवरी सुबह 11:30 बजे से दोपहर 1 बजे तक रणवीरपुर में ही सत्संग,संगोष्ठी एवं दीक्षा के बाद कार्यक्रम का समापन होगा जिसके बाद राजधानी रायपुर आश्रम के लिए उनका प्रस्थान होगा। समायोजक आदित्यवाहिनी-आनंदवाहिनी, जिला कबीरधाम एवं समस्त धर्म प्रेमी, ग्रामवासी तथा क्षेत्रवासियों के विशेष सहयोग से यह आयोजन किया जा रहा है, जिसमें प्रदेश के विशेष एवं अतिविशेष अतिथियों के साथ हजारों की संख्या में धर्मप्रेमियों का भी आगमन होगा।

भावना बोहरा ने आगे कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति, सनातन धर्म और हिन्दू आस्था के ध्वजवाहक स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी के आगमन को लेकर पूरे कबीरधाम जिले की जनता उनके पावन दर्शन एवं आशीर्वचन सुनने के लिए उत्साहित हैं। हम सभी के लिए भी यह गौरव की बात है कि लगभग 7 वर्षों के बाद रणवीरपुर की पुण्य भूमि में उनका आगमन हो रहा है। हिन्दू धर्म को विश्व में ख्याति दिलाते हुए उसकी महिमा, पौराणिक संस्कृति व भारत की अखंडता के प्रसार हेतु उनके द्वारा किये जा रहे कार्य अनुकरणीय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *