Sunday, May 19

छत्तीसगढ़ में प्रथम चरण का मतदान हो गया, पर कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिखाई नहीं दिए : संजय श्रीवास्तव

 

भाजपा छत्तीसगढ़ ने कांग्रेस के कोटे से चुने हुए राज्यसभा सदस्यों को खोजने के लिए पोस्टर जारी कर सवाल पूछा

दागे सवाल : अपने आकाओं को खुश करने के लिए आयातितों को राज्यसभा सदस्य बनाने वाले भूपेश बघेल प्रदेश को बताएँ, इनकी सांसद निधि का पैसा कहाँ-कहाँ खर्च हुआ है? या फिर, क्या यह पैसा भी उनके ‘आकाओं की सेवा’ में लग गया है?

संजय श्रीवास्तव ने कटाक्ष करते हुए कहा : आज छत्तीसगढ़ में अनिच्छुक, उपेक्षित, थके लोकसभा प्रत्याशियों को कांग्रेस ने भी उनके हाल पर छोड़ दिया है

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि छत्तीसगढ़ियावाद का ढोल पीटने वाले पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ से कांग्रेस के कोटे से दीगर प्रदेशों के नेताओं को राज्यसभा में भेजकर जो छल छत्तीसगढ़ के जमीनी कार्यकर्ताओं के साथ किया था, उस करनी का फल आज छत्तीसगढ़ में कांग्रेस भोग रही है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि शनिवार को भाजपा छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के कोटे से चुने हुए राज्यसभा सदस्यों को खोजने के लिए पोस्टर जारी कर पूछ रही है कि आखिर प्रथम चरण का चुनाव संपन्न हो गया, लेकिन अभी तक ये सांसद दिखाई क्यों नहीं दिए?

भाजपा प्रदेश महामंत्री श्री श्रीवास्तव ने कहा कि तीनों कांग्रेस नेता के.टी.एस. तुलसी, राजीव शुक्ला और रंजीता रंजन छत्तीसगढ़ के कोटे से नहीं, भूपेश बघेल के आका के कोटे से छत्तीसगढ़वासियों का हक छीनकर राज्यसभा सदस्य बने हैं और अब इन्हें छत्तीसगढ़ से कोई लेना-देना नहीं रह गया है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि भूपेश बघेल, जिन्होंने अपने आकाओं को खुश करने के लिए इनको राज्यसभा सदस्य बनवाया, वे छत्तीसगढ़वासियों को स्पष्ट करें कि उनकी सांसद निधि का पैसा छत्तीसगढ़ में कहाँ-कहाँ खर्च हुआ है? या फिर, क्या यह पैसा भी उनके ‘आकाओं की सेवा’ में लग गया है? श्री श्रीवास्तव ने शनिवार को एकात्म परिसर में प्रेस ब्रीफ में पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस के राज्यसभा सांसद लगातार छत्तीसगढ़वासियों का अपमान कर रहे हैं। रंजीता रंजन ने कहा था कि सभी नक्सली बुरे नहीं होते। यह सीधा-सीधा नक्सली घटनाओं में शहीद हुए सैनिकों का अपमान है।

भाजपा प्रदेश महामंत्री श्री श्रीवास्तव ने कटाक्ष करते हुए कहा कि आज छत्तीसगढ़ में अनिच्छुक, उपेक्षित, थके लोकसभा प्रत्याशियों को कांग्रेस ने भी उनके हाल पर छोड़ दिया है। शुक्रवार को रायपुर लोकसभा के कांग्रेस प्रत्याशी विकास उपाध्याय की नामांकन रैली में न तो पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मौजूद थे और न ही कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज उपस्थित थे। ऐसे हालात देखकर यह साफ-साफ नजर आ रहा है कि कांग्रेस में अंतर्कलह से उपजी हताशा पूरी तरह व्याप्त हो चुकी है।

इस अवसर पर भाजपा प्रदेश मीडिया सह प्रभारी अनुराग अग्रवाल व सोशल मीडिया सह संयोजक मितुल कोठारी भी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *