Thursday, June 20

अपने 9वें बजट में मोदी देश से किये वायदे को पूरा करें – कांग्रेस*

*अपने 9वें बजट में मोदी देश से किये वायदे को पूरा करें – कांग्रेस*

*मोदी बताये 100 दिन में महंगाई कम करने का वायदे का क्या हुआ?*

*हर साल 2 करोड़ रोजगार के लिये बजट प्रावधान कब होगा?*

रायपुर/ 31 जनवरी 2023। मोदी सरकार द्वारा प्रस्तुत किये जाने वाले आम बजट के पहले कांग्रेस ने मांग किया है कि मोदी अपने सरकार के 9वें बजट में देश की जनता से किये वायदों को पूरा करें। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मोदी ने 2014 के चुनाव में देश की जनता से चार प्रमुख वायदा किया था पहला 100 दिन में महंगाई कम करने का, दूसरा हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का, तीसरा 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने का, चौथा विदेश से काला धन लाकर हर खाते में 15 लाख डालने का। मोदी अपने दूसरा कार्यकाल पूरा करने वाले ऐसे में अब वायदा नहीं निभायेंगे तब कब वायदा पूरा करेंगे। देश की जनता की मांग है कि मोदी सरकार अपने वायदो को पूरा करने के लिये आम बजट में वित्तीय प्रावधान करें।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि 100 दिन में महंगाई कम करने का वायदा करने वाले मोदी के राज में महंगाई कम तो नही हुई और बढ़ गयी है। महंगाई से देश के नागरिको की कमर टूटती जा रही है। 2014 में जो गैस का सिलेंडर 410 रू. का था, आज वह 1150 रू. के पार है। पेट्रोल के दाम 70 रू. प्रति लीटर से बढ़कर 100 रू. प्रति लीटर के पार हो गये है जबकि डीजल के दाम 55 रू. प्रति लीटर से बढ़कर 90 रू. प्रति लीटर के करीब पहुंच गये है। खाने के तेल और दाल की कीमत 70 रू. और 60 रू. प्रति किलो थी, वह 200 रू. प्रति किलो को पार कर गई है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वायदा मोदी ने किया था। उनको सरकार चलाते साढ़े 8 साल हो गये अभी तक 17 करोड़ युवाओ को रोजगार मिलना था। 17 करोड़ युवाओ को रोजगार जो नहीं मिला मोदी सरकार की गलत नीतियों नोटबंदी और जीएसटी के कारण ढाई करोड़ लोगो की नौकरियां चली गयी। देश में बेरोजगारी दर 50 साल के 1972 के बाद सबसे उंचे पायदान 8.76 प्रतिशत पर है। देश के युवा मोदी सरकार और वित्त मंत्री से अपेक्षा करते है कि आने वाले बजट में नये रोजगार सृजन के लिये प्रावधान किये जाये।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने चुनावी वायदे में किसानों से कहा था देश के किसानों की आय 2022 तक दुगनी कर देंगे। 2022 को बीते एक माह हो गये किसानों की आय दुगनी तो नही हुई। मोदी सरकार की किसान विरोधी नीति के कारण कृषि का लागत मूल्य बढ़ गया। डीजल, उर्वरक, कीटनाशक के दाम बढ़ने से किसानों की आय घट गयी। मोदी का किसानो से किया वायदा भी गलत साबित हुआ है। कृषि सुधार के नाम पर किसानों को धोखा दिया जा रहा है। सिंचाई पर योजना और किसानों को प्रत्यक्ष सब्सिडी के बजाय चंद पूंजीपति मित्रों को उपकृत करने का षडयंत्र रचा जा रहा है। देश के किसानों की अपेक्षा है कि मोदी अपने अंतिम बजट में ही वायदा निभाये किसानों की आय बढ़ाने के लिये ठोस वित्तिय प्रावधान किये जाये।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मोदी ने देश की जनता को सब्जबाग दिखाया था कि उनके प्रधानमंत्री बनते ही विदेशो से काला धन लाया जायेगा और हर नागरिक के खाते में 15-15 लाख आयेंगे। मोदी जी अपने सरकार का दूसरा कार्यकाल भी पूरा करने वाले है। इस बजट में प्रधानमंत्री देश की जनता को बताये कि कुल कितना काला धन विदेशो से वापस आया और देश की जनता के खाते में 15 लाख कब आयेंगे?
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ उत्पादक राज्य है। कोयला, आयरनओर, बॉक्साइट जैसे बहुमूल्य खनिज प्रचुर मात्रा में है। जिसका दोहन केन्द्र सरकार और उसके उपक्रम करते है। स्टील और सीमेंट उत्पादन में भी अग्रणी राज्य है। प्रत्यक्ष कर के संग्रहण में छत्तीसगढ़ की महत्वपूर्ण भूमिका है। लेकिन मोदी राज में केन्द्रीय योजनाओं में लगातार उपेक्षा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *